MD of PCF did not get wheat at centers - पीसीएफ के एमडी को भी नहीं मिला सेंटरों पर गेहूं DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीसीएफ के एमडी को भी नहीं मिला सेंटरों पर गेहूं

गेहूं खरीद के पहले दिन आरएफसी के निरीक्षण बाद पांचवे दिन पीसीएफ के प्रबंध निदेशक डा. अरविंद कुमार चौरसिया ने मंडी समिति पहुंचकर वहां बने सेंटरों को चेक किया और खरीद व्यवस्थाओं का जायजा लिया। एमडी को भी निरीक्षण के दौरान किसी भी सेंटर पर न तो गेहूं मिला और न पंजीकरण के लिए किसान मौजूद मिले। इस पर सेंटर प्रभारियों को पंजीकरण प्राथमिकता के साथ बढ़ाने के निर्देश दिए। आढ़त पर आए गेहूं को मंगवाकर सेंटर पर रखी मशीन से नमी को चेक किया जो ठीक मिली। खरीद शुरू न होने के पीछे अधिकारियों ने गेहूं में नमी होना बताया है।

शनिवार की दोपहर एक बजे एमडी श्री चौरसिया मंडी समिति पहुंच गए। वहां पर पहले से ही डिप्टी आरएमओ माजूद थे।

एमडी ने मंडी में आते ही सेंटरों पर जाकर निरीक्षण शुरू कर दिया। मंडी की ओर से सेंटरों पर दी गई सुविधाओं को देखा और जानकारी ली। सेंटरों पर मंडी से मिले कांटों के अलावा छलना और डस्टर को देखा। पीसीयू सेंटर पर रखी नमी मापक मशीन के बारे में पूछा। पास में ही आढ़त पर आए गेहूं को मंगवाकर मशीन से नमी को चेक किया और ठीक होने की बात कही। इसके अलावा अन्य व्यवस्थाओं को देखा। सेंटरों पर एमडी को कहीं भी गेहूं नहीं दिखाई दिया और किसान भी मौजूद नहीं थे। इसके बाद खरीद एजेंसियों के जिला प्रबंधकों को गेहूं की खरीद समय से शुरू करने और लक्ष्य के सापेक्ष करने की बात कही। सेंटर प्रभारियों को किसानों का पंजीकरण करने के निर्देश दिए। गेहूं की आवक न होने पर डिप्टी आएमओ डा. अविनाश झा ने बताया कि अभी नमी अधिक है जो मानक के अनुसार नहीं है। सचिव बिजन वालियान से सेंटरों पर किसानों के लिए सुविधाएं बढ़ाने के लिए कहा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:MD of PCF did not get wheat at centers