DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

... तो तीन जिले पार करके हजारा में पहुंचेगी पोलिंग

... तो तीन जिले पार करके हजारा में पहुंचेगी पोलिंग

लोकसभा चुनाव में हजारा के मतदान केंद्रों पर पोलिंग पार्टियां कैसे पहुंचेंगी। इसको लेकर डीएम-एसपी ने प्रशासनिक अमले के साथ शारदा नदी के धनाराघाट पर पहुंचे। पेंटून पुल के आगे चल रहे पानी रोकने के लिए भी विचार किया गया। पानी नहीं रुका तो पार्टियों को तीन जिले पार करके पहुंचना पड़ेगा।

ट्रांस क्षेत्र में पूरनपुर से आवागमन के लिए शारदा नदी पर लोक निर्माण विभाग द्वारा पेटून पुल बनाकर आवागमन कराया जाता है। पिछले दो वर्षों से टोल टैक्स फ्री कर दिए जाने के बाद विभाग लापरवाही बरत रहा है। इस बार लेटलतीफ कर सही पुल न बनाए जाने से आवागमन प्रभावित हो रहा है। आम लोगों को परेशानी के साथ इस बार लोकसभा चुनाव में प्रशासन को भी परेशानी झेलनी पड़ सकती है। पोलिंग पार्टियों को हजारा में कैसे पहुंचाया जाएगा इसको लेकर शुक्रवार को डीएम वैभव श्रीवास्तव, पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सोनकर, डीएफओ आदर्श कुमार, पीडब्ल्यूडी के एक्सईएन अनिल राणा, पूरनपुर एसडीएम चंद्रभान, सिंचाई विभाग के एसडीओ समेत तमाम अधिकारियों के साथ शारदा नदी के धनाराघाट पहुंचकर रास्ते का निरीक्षण किया। इस दौरान पेंटून पुल के आगे बह पानी को रोकने के लिए वार्ता की गई। पानी में एक और पुल बनाने, पानी की धार बदलने, रेत की बोरियां लगाने के लिए कहां गया। हालांकि जिम्मेदार अधिकारी काम कराने के लिए कन्नी काटते रहे। सुझाव दिया यह सब कर आने की वजह पोलिंग पार्टियों को पीलीभीत से खुटार, मैलानी, पलिया, संपूर्णानगर होकर भेजना ही बेहतर होगा। इससे 30 पोलिंग पार्टियों को सौ सौ किलोमीटर का अधिक सफर तय करना पड़ेगा। प्रशासन को अतिरिक्त खर्च भी झेलना पड़ेगा। इस मौके पर नायब तहसीलदार अनुराग सिंह, हजारा इस्पेक्टर खीम सिंह जलाल, ठेकेदार प्रतिनिधि असलम कुरैशी समेत तमाम लोग मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lokshabha election- 2019 Polling will cross the three districts and reach Hazara