DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीलीभीत से ही हो ट्रेन में सामान की लोडिंग

बरेली मंडल के आयुक्त पीवी जगमोहन की अध्यक्षता में बरेली में मंडलीय उद्योग बन्धु की बैठक का आयोजन किया गया। इसमें आईआईए चेयरमैन सीए संजय अग्रवाल ने पीलीभीत में उद्योगों के विकास के लिए कई बिंदु रखे। आयुक्त ने इनका संज्ञान लिया और जल्द इन पर अमल करने की बात कही।

चेयरमैन संजय ने कहा कि पीलीभीत की राइस मिलों, फ्लोर मिलों, शुगर फक्ट्रियों, साल्वेंट मिलों आदि समस्त औद्योगिक इकाइयों को अपने माल की रेलवे से रैक लोडिंग के लिए बरेली जाना होता है जिससे अनावश्यक खर्च के साथ परेशानी का सामना करना पड़ता है|

यही काम बड़ी लाइन हो जाने के बाद सुगमता से पीलीभीत से किया जा सकता है जिससे रेलवे को करोड़ों रुपयों की आमदनी हो सकती है। उद्योगों को बहुत राहत मिल सकती है। इस बात को औद्योगिक संगठनों ने मिलकर रेलवे के संज्ञान में डाला तो लगभग छह माह पहले रेलवे विभाग बरेली की टीम ने पीलीभीत के उद्यमियों के साथ शाही रेलवे स्टेशन को इस उद्देश्य के लिए चयनित किया था, लेकिन अभी तक कोई ठोस प्रगति दिखाई नहीं देने पर जिला उद्योग बन्धु में भी यह मुद्दा चेयरमैन की ओर से उठाया गया था।

आयुक्त ने विषय को गंभीरता से तुरंत संज्ञान लेते हुए सहायक आयुक्त उद्योग को कहा कि वह इस विषय पर उनसे रेलवे मंत्रालय को पत्र लिखवा कर भेजें और अगली बैठक में प्रगति की आख्या प्रस्तुत करें। इसके बाद संजय ने सभी औद्योगिक इकाइयां जो वर्ष 2004 के बाद स्थापित हुई हैं, को विद्युत शुल्क में छूट का प्रावधान हैं जो कि बहुत सी इकाइयों को नहीं ज्ञात है। इस विषय को चेयरमैन की ओर से पीलीभीत में आयोजित जिला स्तरीय उद्योग बंधू की बैठक में भी उठाया गया था और आज मंडलीय स्तर पर भी। यह तय किया गया कि जिन जिन पात्र इकाइयों को यह सुविधा नहीं मिली है वह अपनी सूचना बना कर क्लेम करें, हरेक को यह छूट दिलाई जाएगी। संजय ने कहा कि भरा पचपेड़ा में 1100 एकड़ भूमि पर औद्योगिक आस्थान में संभावित फूड पार्क की संभावनाओं पर विशेष चर्चा हुई| एक मेगा फूड पार्क बहेड़ी में भी प्रस्तावित है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Loading of luggage in train from Pilibhit