ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश पीलीभीतकरंट से हुई तेंदुए की मौत, किया जाएगा सर्वेक्षण

करंट से हुई तेंदुए की मौत, किया जाएगा सर्वेक्षण

वनाधिकारियों की निगरानी में चिकित्सा पैनल ने तेंदुए के शव का पोस्टमार्टम किया। पड़ताल में सामने आया है कि तेंदुए की जान करंट से गई है। आसपास विद्युत...

करंट से हुई तेंदुए की मौत, किया जाएगा सर्वेक्षण
हिन्दुस्तान टीम,पीलीभीतWed, 15 May 2024 12:30 AM
ऐप पर पढ़ें

पीलीभीत, संवाददाता
वनाधिकारियों की निगरानी में चिकित्सा पैनल ने तेंदुए के शव का पोस्टमार्टम किया। पड़ताल में सामने आया है कि तेंदुए की जान करंट से गई है। आसपास विद्युत लाइन को लेकर सर्वेक्षण किया जाएगा।

बता दें कि न्यूरिया थानाक्षेत्र के अंतर्गत भरतपुर खकरा कंपार्टमेंट में सोमवार को तेंदुए का शव संदिग्ध परिस्थितियों में मिला था। हालांकि वनाधिकारियों ने प्रथम दृष्टया ही पाया था कि तेंदुए की पूंछ में हल्का सा जला हुआ पार्ट था। इसके बाद निर्णय किया गया कि तेंदुए का पोस्टमार्टम होगा। बरेली के बजाए पीलीभीत में ही तीन सदस्यीय चिकित्सकों के पैनल ने पोस्टमार्टम किया। साथ ही वनाधिकारी भी मौके पर मौजूद रहे। बता दें कि रविवार को पीलीभीत टाइगर रिजर्व की महोफ रेंज में वनकर्मियों को गश्त के दौरान एक तेंदुए का शव पड़ा मिला था। सूचना मिलने पर पीटीआर के उप प्रभागीय वनाधिकारी टीम के साथ मौके पर पहुंचे थे। घटनास्थल की जांच पड़ताल करने के बाद तेंदुए के शव को कब्जे में लेकर महोफ रेंज कार्यालय लाया गया था। पोस्टमार्टम के लिए पीटीआर के फील्ड डायरेक्टर विजय सिंह ने पैनल का गठन किया था। इसमें डिप्टी सीवीओ डॉ. लक्ष्मी प्रसाद, पीटीआर के पशु चिकित्सक डॉ. दक्ष गंगवार और बरखेड़ा के पशु चिकित्साधिकारी डॉ. हरपाल सिंह शामिल रहे। पीटीआर के उप प्रभागीय वनाधिकारी रमेश चौहान की देखरेख में उप प्रभागीय वनाधिकारी दीपक पांडेय, डब्ल्यूडब्ल्यूएफ के नरेश कुमार, डब्ल्यूटीआई के राघवेंद्र प्रताप सिंह, ग्राम प्रधान मनोज कुमार मौजूद रहे। डीएफओ मनीष सिंह ने बताया कि करंट से तेंदुए की मौत हुई है। आसपास जंगल में विद्युत सर्वेक्षण किया जाएगा।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।