jalastar ka badhane se shaarada ka hone laga kataav 40 5000 Sharda s cutting erosion by increasing water level - जलस्तर का बढ़ने से शारदा का होने लगा कटाव DA Image
16 नबम्बर, 2019|4:09|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जलस्तर का बढ़ने से शारदा का होने लगा कटाव

जलस्तर का बढ़ने से शारदा का होने लगा कटाव

शारदा नदी का जलस्तर बढ़ने से कटान तेज हो गया है। राहुलनगर में कई एकड़ भूमि निगल गई है। लगातार हो रहे कटान से नौकाघाट घाट की झोपड़ी निशाने पर बनी हुई है। कटान को रोकने के लिए कराया गया बचाव कार्य नाकाम साबित हो रहा है। पहाड़ों पर हो रही बारिश से शुक्रवार को शारदा का जलस्तर बढ़ने लगा है। इसी के साथ नदी ने राहुलनगर में कई एकड़ वन भूमि का वजूद मिटा दिया है। इतना ही नहीं उत्तर खीरी वन प्रभाग संपूर्णानगर रेंज के राहुलनगर नौकाघाट मुंशी की झोपड़ी निशाने पर बनी हुई है।

उधर नदी के किनारे पर लगाई गई बोरियां भी जलमग्न हो गई है। इसके अतिरिक्त नौकाघाट रास्ते में कई जगह पानी की धाराएं बहने लगी हैं। उधर नहरोसा के पास खेतिहर की भूमि पर कटान होने लगा है। उधर राणाप्रतापनगर में 12 करोड़ की लागत से कराया जा रहा बचाव कार्य भी पूरा नहीं हो सका है। बाढ़ खंड के एक्सीईएन शैलेश सिंह ने बताया है। शारदा पर बचाव कार्य युद्ध स्तर पर कराया जा रहा है। राणा प्रताप नगर में दोनों छोर पर कटर निर्माण भी कराया जा रहा है। दूसरी ओर पटरा बांधने का भी कार्य हो रहा है। जो जल्द पूरा कर लिया जाएगा।

प्रशासन का दावा साबित हो रहा खोखला

पूरनपुर तहसील प्रशासन द्वारा बाढ़ बचाव कार्य से निपटने के लिए दावे पूरी तरह खोखले साबित हो रहे हैं। इसको लेकर 15 जून से तैयारियां पूरी कर ली जाती है। किंतु इस बार पांच जुलाई बीतने के बाद इंतजाम अधूरे हैं। भरतपुर, चंद्रनगर, रामनगर आदि बाढ़ शरणालय पर अवैध कब्जा हैं। ग्राम पंचायतों में नाव तक ठीक नहीं कराई गई हैं। आपदा में निपटने के लिए राशन का अभी तक स्टॉक नहीं कराया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: jalastar ka badhane se shaarada ka hone laga kataav 40 5000 Sharda s cutting erosion by increasing water level