DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  पीलीभीत  ›  क्रेडिट कार्ड का अंधाधुंध इस्तेमाल, एफडी भी तुड़वाई

पीलीभीतक्रेडिट कार्ड का अंधाधुंध इस्तेमाल, एफडी भी तुड़वाई

हिन्दुस्तान टीम,पीलीभीतPublished By: Newswrap
Mon, 24 May 2021 11:51 PM
क्रेडिट कार्ड का अंधाधुंध इस्तेमाल, एफडी भी तुड़वाई

परिवार की जरूरतों को पूरा करने के लिए उठा रहे कदम

पीलीभीत। संवाददाता

कोविड-19 के कोरोना संक्रमण काल की दूसरी लहर के दो माह में बैंक ग्राहकों ने क्रेडिट कार्ड का अधाधुंध इस्तेमाल किया है, तो एफडीआर और एनएससी को तुड़वाया। परिवार की जरूरतों को पूरा करने के लिए लोगों ने अपनों के बिना बताए यह सब किया। बैंक प्रबंधन इसे निजता बताते हुए कुछ कहने से इंकार कर रहे हैं।

कोरोना महामारी ने व्यापारियों और आम जनता की कमर तोड़कर रख दी है। डेढ़ साल से व्यापार पूरी तरह से चौपट हो गया है। ऐसे में व्यापार को चलाने के लिए प्रत्येक कारोबारी बैंक में लिमिट बनाकर खाता खोलता है, जिससे धनराशि को निकालने और जमा करने का काम करता है। लोन लेकर भी कारोबार चलाता है। अप्रैल और मई महीने में क्रेडिट कार्ड का अधाधुंधा इस्तेमाल होना पाया गया। कार्ड की बंधी धनराशि की लिमिट को खर्च कर दिया है। अब चुकता करने में दिक्कत आ रही है। ऐसे में बैंकों में एफडीआर को तुड़वाने का काम किया जा रहा है। इधर, जनपद में किसी भी बैंक द्वारा क्रेडिट कार्ड ब्लाक किए जाने की कोई सूचना नहीं है। व्यापारियों का कहना है कि क्रेडिट कार्ड की लिमिट बनाई जाती है। लिमिट के अंदर ही धनराशि खर्च की जा सकती है। खाते में जमा न करने पर ब्याज व नोटिस देने की कार्रवाई की जाती है। अग्रणी बैंक प्रबंधक विनोद कुमार ने बताया कि जनपद मुख्यालय पर ऐसी किसी प्रकार की डिटेल नहीं रहती है। बैंकों के हेड आफिस में क्रेडिट विभाग के पास जानकारी होती है।

------

बैंकों के पास नहीं रहता कोई रिकार्ड

क्रेडिट कार्ड के ओवरलिमिट निकासी के बाद डिफाल्टर की श्रेणी में पहुंचे खातेदारों के बारे में बैंकों के पास कोई रिकार्ड नहीं रहता है। बैंकों के क्रेडिट कार्ड सेल के पास रिकार्ड होता है। इस रिकार्ड को बैंक प्रबंधन गोपनीय मान रहा है।

--------

संबंधित खबरें