Monday, January 24, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश पीलीभीतआरोपी को छोड़ने के नाम पर दरोगा ने लिए 10 हजार, हंगामे के बाद किए बापस

आरोपी को छोड़ने के नाम पर दरोगा ने लिए 10 हजार, हंगामे के बाद किए बापस

हिन्दुस्तान टीम,पीलीभीतNewswrap
Thu, 02 Dec 2021 08:50 PM
आरोपी को छोड़ने के नाम पर दरोगा ने लिए 10 हजार, हंगामे के बाद किए बापस

पूरनपुर। संवाददाता

पूरनपुर पुलिस अपने कारनामों से चर्चा में है। कोतवाली में तैनात एक दरोगा पर सुविधा शुल्क वसूलकर तीन तलाक के आरोपी को छोड़ने का आरोप लगा है। रुपए लेने के बावजूद आरोपी को जेल भेज दिया गया। पैरवी कर रहे अधिवक्ता की दरोगा से नोकझोंक हुई। फजीहत के बाद रुपए वापस कर दिए गए।

साहूकारा निवासी जीनत का मोहल्ले के ही अरशद खान से 19 जुलाई 2021 को लव मैरिज हुई थी। पंद्रह दिन तक विवाहिता का दांपत्य जीवन सही चला। आरोप है कि इसके बाद पति, देवर मुन्ना के अलावा पूरनपुर देहात निवासी रहीश बाबू व आशा बेगम दहेज में दो लाख की नकदी और बुलेट की मांग करने लगे। इस मामले में महिला की ओर से पुलिस ने 12 नवंबर को मुकदमा दर्ज किया था। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया था। आरोप है इस मामले में आरोपी को छोड़ने के नाम पर कोतवाली में तैनात एक दरोगा ने 10 हजार ले लिए। अगले दिन उसके जेल जाने पर रुपए वापस मांगने पर दरोगा आनाकानी करने लगा। मामले की पैरवी कर रहे अधिवक्ता की दरोगा से काफी नोकझोंक हुई। इसके बाद काफी फजीहत के बाद रुपए वापस किए गए। अधिवक्ता ने मामले की शिकायत एसपी से करने की बात कही है। कोतवाल रामसेवक ने बताया दरोगा के रुपए लेकर वापस करने की जानकारी उनको नहीं है। शिकायत मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।

epaper

संबंधित खबरें