DA Image
15 जुलाई, 2020|10:17|IST

अगली स्टोरी

हिन्दू संगठनों ने धार्मिक आस्था को ठेस पहुंचाने पर जताई नाराजगी

हिन्दू संगठनों ने धार्मिक आस्था को ठेस पहुंचाने पर जताई नाराजगी

माला रेंज के गढ़ा बीट में धार्मिक स्थल पर बनी रेलिंग को वन विभाग के आला अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर तुड़वा दी थी। इसको लेकर हिंदूवादी संगठनों में काफी नाराजगी देखी जा रही है। अधिकारियों पर कार्रवाई को लेकर संगठनों ने उप जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपकर कार्रवाई की मांग की है। एक पखवाड़े के अंदर कार्रवाई न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।

पूरनपुर पीलीभीत आसाम हाइवे पर माला रेंज में हनुमान जी का धार्मिक स्थल है। मंदिर की देखरेख कर रहे पुजारी लोगों के सहयोग से वहां सौंदर्यीकरण करा रहे हैं। दो दिन पहले जानकारी लगने पर पीलीभीत टाइगर रिजर्व के डिप्टी डायरेक्टर नवीन खंडेलवाल ने वन कर्मियों के साथ मौके पर पहुंचकर कार्य को बंद करा दिया था। राजमिस्त्री को भी हिरासत में लेकर उसे जमकर हड़काया था। मंदिर के आगे बनाई गई रेलिंग भी वन कर्मचारियोंं ने तोड़कर सामान जब्त कर लिया। मामला हिंदूवादी संगठनों के संज्ञान मेंं आने पर इसकी कड़ी आलोचना की गई। शनिवार को राष्ट्रीय हिंदू परिषद और राष्ट्रीय बजरंग सेना के दर्जनों कार्यकर्ताओं ने घटना पर खेद प्रकट किया। इसके बाद कार्यकर्ताओंं ने थाना समाधान में पहुंचकर एसडीएम चंद्रभानु सिंह को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कहा गया हैै कि हनुमान मंदिर मेंं सुरक्षा की दृष्टि से लगाई गई रेलिंग को पीटीआर के डिप्टी डायरेक्टर की मौजूदगी में वन कर्मचारियों ने तोड़ डाली। इससे हिंदुओं की आस्था को ठेस पहुंची है। धर्मस्थल की देखरेख करने वाले लोगों से अभद्रता कर मारपीट की गई। इससे जनता में रोष व्याप्त है। 15 दिन के अंदर आरोपी अधिकारियों पर कार्रवाई न करने पर आंदोलन की चेतावनी दी गई है। ज्ञापन देने वालों में रूम सिंह यादव, विजय शर्मा, आर के प्रजापति, जगदीश पांडे, अनुज यादव, ओंकार पांडे, शेखर गुप्ता, रामदयाल, अनुज शर्मा सहित कई कार्यकर्ता मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: Hindu organizations expressed displeasure over hurting religious faith