DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  पीलीभीत  ›  खांसी बुखार के बाद तंदरुस्त हुए हेल्थ वर्कर, नहीं कराया एंटीबॉडी टेस्ट

पीलीभीतखांसी बुखार के बाद तंदरुस्त हुए हेल्थ वर्कर, नहीं कराया एंटीबॉडी टेस्ट

हिन्दुस्तान टीम,पीलीभीतPublished By: Newswrap
Mon, 24 May 2021 11:31 PM
खांसी बुखार के बाद तंदरुस्त हुए हेल्थ वर्कर, नहीं कराया एंटीबॉडी टेस्ट

कोरोना की चपेट में आकर और बिना जांच के ही बुखार और खांसी की समस्या से चिकित्सक और कर्मचारी ठीक हो गए हो लेकिन जिले में अभी तक किसी का एंटीबॉडी का टेस्ट नहीं कराया गया। टेस्ट न होने से यह भी स्पष्ट नहीं हो सका है कि कितने लोगों में एंटीबॉडी बन चुका है। फिलहाल नोडल अफसर का कहना है कि जल्द ही सभी का टेस्ट कराया जाएगा।

दूसरी लहर में कोरोना संक्रमित कई लोगों को प्लाज्मा की जरूरत पड़ी है। इसमें उसी का प्लाज्मा काम करता है जो ठीक हो चुका हो और एंटीबॉडी बनने लगी है। इधर ऐसा भी देखा गया है कि कुछ लोगों को बुखार और खांसी की समस्या थी और लक्षण भी कोविड के थे। जांच कराए बिना ही वे लोग दवा खाकर ठीक हो गए हैं। ऐसे लोगों में एंटीबॉडी की पड़ताल के लिए टेस्ट होना था। जिले में अभी तक सरकारी विभाग में तैनात चिकित्सक और कर्मचारियों का टेस्ट ही नहीं हो सका है। नोडल अधिकारी डा. हरपाल सिंह ने बताया अभी टेस्ट नहीं हुआ है और जल्द ही सभी का कराया जाएगा।

संबंधित खबरें