ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश पीलीभीतनौकरी लगवाने के नाम पर डेढ़ लाख रुपये की ठगी

नौकरी लगवाने के नाम पर डेढ़ लाख रुपये की ठगी

गी कर ली गई। रुपये वापस मांगने पर मारपीट और जान से मारने की धमकी दी गई। महिला ने एसपी को शिकायती पत्र देकर कार्रवाई की मांग की है। कोतवाली क्षेत्र...

नौकरी लगवाने के नाम पर डेढ़ लाख रुपये की ठगी
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,पीलीभीतMon, 01 Aug 2022 12:51 AM
ऐप पर पढ़ें

पीलीभीत,संवाददाता। नौकरी लगवाने के नाम पर डेढ़ लाख रुपये की ठगी कर ली गई। रुपये वापस मांगने पर मारपीट और जान से मारने की धमकी दी गई। महिला ने एसपी को शिकायती पत्र देकर कार्रवाई की मांग की है। कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला बागगुलशेर खां निवासी आशा रस्तोगी पत्नी स्वर्गीय अनूप रस्तोगी ने पुलिस अधीक्षक को शिकायती पत्र दिया। जिसमे कहा गया कि उसके पुत्र सुमित रस्तोगी की नौकरी लगवाने के लिए लालाराम पुत्र धर्मदास निवासी मोहल्ला एकतानगर ने नौ नबंवर को 1.50 लाख रुपये लिए थे। छह माह के अंदर नौकरी लगवा देने का वादा भी किया गया था। काफी समय बीतने के बाद भी जब नौकरी नहीं लगी तो उसने रुपये वापस मांगे। इस पर उसने एक सादा कागज पर कुछ समय बाद रुपये वापस करने की बात लिखकर दे दी। 10 जून को वह अपने बेटे के साथ चौक बाजार स्थित एक मेडीकल स्टोर पर दवाई लेने के लिए जा रही थी। रास्ते में बरेली गेट के समीप उसको लालाराम ने रोक लिया। आरोप है कि रुपये वापस मांगने पर आरोपी ने गाली गलौच करते हुए जान से मारने की धमकी दी। उसके बेटे के साथ भी मारपीट की गई। सड़क पर शोर शराबा होने पर आसपास के लोग एकत्र हो गए। जिस पर आरोपी वहां से चला गया। घटना की तहरीर कोतवाली पुलिस को दी गई लेकिन रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई। पीड़िता ने एसपी से कार्रवाई की मांग की है। एसपी ने कोतवाली पुलिस को जांच के बाद कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

epaper