ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश पीलीभीतटप्पेबाजी करने वाले बिहार,दिल्ली और एटा के चार युवक गिरफ्तार

टप्पेबाजी करने वाले बिहार,दिल्ली और एटा के चार युवक गिरफ्तार

न्यूरिया पुलिस ने अन्तर्राजीय गिरोह के चार आरोपियों को गिरफ्तार कर चोरी किए गए एक लाख 20 हजार रुपये बरामद किए हैं। आरोपियों के कब्जे से घटना में...

टप्पेबाजी करने वाले बिहार,दिल्ली और एटा के चार युवक गिरफ्तार
हिन्दुस्तान टीम,पीलीभीतTue, 18 Jun 2024 12:45 PM
ऐप पर पढ़ें

न्यूरिया पुलिस ने अन्तर्राजीय गिरोह के चार आरोपियों को गिरफ्तार कर चोरी किए गए एक लाख 20 हजार रुपये बरामद किए हैं। आरोपियों के कब्जे से घटना में प्रयुक्त किया गया वाहन और अवैध शस्त्र भी बरामद हुए हैं। मुकदमा दर्ज कर आरोपियों को जेल भेज दिया गया है। पुलिस के मुताबिक आरोपी शातिर किस्म के हैं और उनके खिलाफ पूर्व में मुकदमे दर्ज हैं।
थाना न्यूरिया क्षेत्र के ग्राम हरिकिशनापुर निवासी चन्द्रसेन पुत्र सुन्दरलाल ने थाना न्यूरिया में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जिसमे कहा गया कि उसकी साइकिल के हैंडल में टंगे थैले में रखे एक लाख बीस हजार रुपये,दो बैंक की पासबुक, आधार कार्ड को चोरी अज्ञात युवकों ने चोरी कर लिया था। मुकदमा दर्ज कर पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही थी। एक सूचना के आधार पर पुलिस ने थाना न्यूरिया क्षेत्र के टनकपुर रोड स्थित भुजिया मजार तिराहे से रविवार रात सवा नौ बजे चार युवकों को पकड़ लिया। पूछताछ में आरोपियों ने अपने नाम महेन्द्र यादव उर्फ तन्दूरी पुत्र बहुर यादव निवासी वहददी वेला थाना घनश्यामपुर जिला दरभंगा बिहार जबकि हाल निवासी बकरोला मकान नंबर 23 गली नंबर एक बकरोला बिहार जिला नजफगढ दिल्ली,राहुल उर्फ भोला पुत्र कुलदीप शर्मा निवासी ग्राम महरेराह थाना महरेराह जिला एटा उत्तर प्रदेश जबकि हाल निवासी गली नंबर 15 मंडोली थाना हर्ष बिहार जिला बाहरी दिल्ली,रमेशचन्द पुत्र स्वः मुन्ना लाल निवासी संजय एंकलेव उत्तम नगर नई दिल्ली,प्रवीण कुमार पुत्र रामवृक्ष शाह निवासी ग्राम जनार्धनपुर थाना कल्यानपुर जिला समस्तीपुर बिहार जबकि हाल निवासी विनोदपुरी विजय एंकलेव थाना डाबरी जिला डाबरी दिल्ली बताया। आरोपियों के कब्जे से चोरी किए गए एक लाख 20 हजार रुपये के अलावा एक तमंचा,दो चाकू और घटना में प्रयुक्त कार बरामद की गई। आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि 17 मई को वह लोग पूर्णागिरी मन्दिर पर प्रसाद चढाने आये थे। वहीं पर उन्होंने घटना को लेकर योजना तैयार की। उक्त चारों लोगों ने कस्बा न्यूरिया पहुंचकर बैंक आफ बडौदा बैंक के पास रैकी की और घटना को अंजाम दे दिया। आरोपी पहले भी दिल्ली व कई जिलों में इस तरह की घटनओं को अंजाम दे चुके हैं। आरोपियों को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक प्रदीप कुमार विश्नोई,उपनिरीक्षक नीरज कुमार,कांस्टेबल अमित,सौरभ और रूपक आदि पुलिसकर्मी शामिल रहे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।