DA Image
28 नवंबर, 2020|8:09|IST

अगली स्टोरी

गुड्स शेड को जाने वाली पटरी पर हुआ इंजन ट्रायल

गुड्स शेड को जाने वाली पटरी पर हुआ इंजन ट्रायल

पीलीभीत। हिन्दुस्तान संवाद

जनपद के व्यापारियों की लंबे समय से चली आ रही गुड्स शेड बनाए जाने की मांग पूरी होती नजर आ रही है। आने वाले समय में व्यापारियों को गुड्स शेड का लाभ मिल सकेगा। पीलीभीत स्टेशन के पूर्व दिशा में बनाए गए गुड्स शेड तक जाने के लिए पटरी बिछाई गई। इन पटरियों पर इंजन का ट्रायल किया गया, जो सफल रहा। अभी गुड्स शेड पर कई जरूरी सुविधाओं पर काम किया जा रहा है।

पीलीभीत जनपद के कुटीर उद्योग के रूप में बांसुरी का उत्पादन किया जाता है। बांसुरी के लिए असम के सिलचर से बांस मंगाया जाता है, जो बहुत ही महंगा पड़ता है। असम के लिए सीधी ट्रेन सेवा न होने की वजह से बांसुरी उद्योग दम तोड़ता नजर आ रहा है। अब माल की लोडिंग और अनलोडिंग करने के लिए गुड्स शेड का निर्माण किया जा रहा है, जो अंतिम चरण में चल रहा है। गुड्स शेड तक जाने के लिए रेल पटरियां बिछाई गई है, जो करीब एक हजार मीटर लंबाई में हैं। इन पटरियों को बिछाकर आपस में कनेक्ट कर दिया गया। रेलवे विभाग ने गुड्स शेड को जाने वाली पटरियों पर इंजन चलाकर ट्रायल किया। इंजन के माध्यम से तकनीकी खामियों को परखा गया। रेल अधिकारियों की मौजूदगी में इंजन का ट्रायल पूरी तरह से सफल रहा। उम्मीद है कि नए साल में पीलीभीत में गुड्स शेड का शुभारंभ हो जाएगा, जिससे व्यापारियों और उद्योगपतियों को सामान भेजने और मंगाने में आसानी हो जाएगी। माल की ट्रांसपोर्टिंग आसान हो जाएगी। स्टेशन अधीक्षक धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि गुड्स शेड की लाइन पर इंजन ट्रायल किया गया है। अन्य सुविधाओं की दिशा में तेजी से काम किया जा रहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Engine trial on track going to Goods Shed