DA Image
23 जनवरी, 2020|7:32|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्कूलों को प्राथमिकता से संवारे, लापरवही क्षम्य नहीं: बीडीओ

स्कूलों को प्राथमिकता से संवारे, लापरवही क्षम्य नहीं: बीडीओ

आपरेशन कायाकल्प योजना के अंतर्गत स्कूलों को संवारने के लिए शासन के पत्र पर बिलसंडा ब्लाक सभागार में प्रधान व शिक्षकों की सामूहिक बैठक का आयोजन हुआ। प्रभारी बीडीओ ब्रहमेन्द्र शर्मा ने शिक्षकों व प्रधानों को संबोधित करते हुए कहा कि ब्लाक क्षेत्र के सभी स्कूलों में बालक बालिकाओं के शौचालय, कमरों में टाइल्स, ब्लैकबोर्ड, पेयजल व्यवस्था, फर्नीचर आदि को सभी लोग समय रहते दुरूस्त कराएं। कहा कि ग्राम निधि से सभी स्कूलों के कायाकल्प के निर्देश दिए गए हैं। काफी काम इसपर हो चुका है। जिन स्कूलों में ये सब नहीं हुआ वहां प्रधान और शिक्षक मिलकर इसे कराएं। खंड शिक्षा अधिकारी शिवेन्द्र वर्मा भी मौजूद रहे।

शासन के एजेंडे से अवगत कराने के बाद प्रधान व शिक्षकों ने अपनी दिक्कतों का साझा किया। बड़ागांव के प्रधान सचिन गंगवार ने कहाकि गांव के प्राइमरी स्कूल परिसर में एक पेड़ को हटाने के लिए छह माह से पत्राचार किया जा चुका है। मगर अबतक उसपर निर्णय नहीं लिया जा सका। कहाकि अगर कोई हादसा हुआ तो इस लापरवाही का जिम्मेदार शिक्षा विभाग होगा। आजमपुर बरखेड़ा के प्रधान रामऔतार गंगवार ने अपनी पंचायत के प्राथमिक स्कूल पुरबा की बदहाली सामने रखी। कहाकि छह साल में ही स्कूल की बिल्डिग जर्जर होने लगी। लिंटर की सरिया दिखने लगी। शौचालय बदहाल हैं। अंडाह ग्राम पंचायत के इमलिया गंगी स्कूल की इमारत जर्जर होने की बात स्कूल के प्रधानाध्यापक ने सामने रखी। प्रधान को निर्देश दिया गया कि स्कूल का लिंटर तत्काल ठीक कराएं। बरसात में स्कूल का लिंटर टपकने की समस्या रखी। प्राइमरी स्कूल जगन्नाथपुर में परिसर में पानी भरने की दिक्कत प्रधानाध्यापक ने सामने रखी। मवैइया स्कूल में बिजली कनेक्शन कराने व स्कूल में फिटिंग कराने की मांग उठाई। तिल्छी स्कूल के शिक्षक ने कहाकि स्कूल में शौचालय तक नहीं है। जिसपर प्रभारी बीडीओ व बीईओ दंग रह गए। एबीएसए व प्रभारी बीडीओ ने प्रधान व शिक्षकों को निर्देश दिया कि स्कूलों को सरकार प्राथमिकता के आधार संवारने के निर्देश दे चुकी है। इसकी समीक्षा खुद जिले पर जिलाधिकारी महोदय कर रहे हैं। इसमें कोई लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। बैठक में प्रधान बबलू गंगवार, इरफान, नत्थू बख्श, मंजीत सिंह, संजीव कुशवाहा, नरेन्द्र गंगवार, उमेश मिश्रा, सूरजपाल, मनोज कुमार, धीरज मिश्रा समेत तमाम लोग मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: Dealing with priority schools not reckless forgiveness BDO