DA Image
30 मार्च, 2020|3:11|IST

अगली स्टोरी

लाइव प्रसारण में कृषि वैज्ञानिकों से रू-ब-रू हुए जिले के किसान

लाइव प्रसारण में कृषि वैज्ञानिकों से रू-ब-रू हुए जिले के किसान

प्रदेश के किसान बड़े कृषि वैज्ञानिकों से रुबरू हो इसे। इसको लेकर मंगलवार को वीडियो कांफेंसिंग के माध्यम से लाइव प्रसारण दिखाया गया। इसमें प्रदेश के साथ ही पीलीभीत के किसान कृषि वैज्ञानिकों से खेती की नई तकनीकी सीखे। प्रदेश के 25 जिलों के एक-एक किसानों ने लाइव प्रसारण में कृषि वैज्ञानिकों से बात भी की, पर जिले के किसानों को यह सौभाग्य नहीं मिल सका। कृषि वैज्ञानिक की बात किसानों के साथ का यह लाइव प्रसारण दोपहर दो से शाम छह बजे तक कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही के नेतृत्व में संपंन हुआ। इसमें प्रमुख सचिव कृषि अमित मोहन प्रसाद भी मौजूद रहे।

कृषि वैज्ञानिक की बात किसानों के साथ लाइव प्रसारण कार्यक्रम में महानिदेशक उपकार डा. विजय सिंह ने सब्जी की पैदावार पर जानकारी दी। कृषि वैज्ञानिक डा. आरसी सिंह ने फसलों में लगने वले कीट रोग रोगथाम के उपाए बताए। कृषि वैज्ञानिक डा. एके सिंह ने फल उत्पादन के बारे में विस्तार से किसानों को बताया। सहजन की खेती को लकेर कृषि वैज्ञानिक डा. लोढ़े ने किसनों को कई महत्पूर्ण जानकारी दी। गन्ना की अच्छी पैदावार के लिए डा. टीके श्रीवास्तव ने उपाए बताए। डा. विश्वजीत ने महिलाओं के पोषण के बारे में बताया। उन्होंने केएनसी कंगूरू मदर के बारे में जानकारी दी। डा. बंगाली बाबू ने फसल कटने के बाद उनके अवशेष का कैसे प्रबंधन किया जाए इसको लेकर विस्तार से बताया। आईआईटी कानपुर के डा. विवेक मौर्या ने कृषि क्षेत्र में अन्य महत्पूर्ण बातों का जिक्र किया। डा. मुकुल ने पशुपालन के बारे में कई महत्पूर्ण जानकारियां दी। लाइव प्रसारण के दौरान डीडी कृषि यशराज सिंह, जिला गन्ना अधिकारी जितेंद्र मिश्रा, जिला कृषि अधिकारी डा. वीके यादव के अलावा करीब 15 किसानों ने लाइव प्रसारण देखा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Audio of BJP leader taking two lakhs