Animals brought to the banks of the river were selling meat from home - नदी किनारे काटकर लाए पशु, घर से कर रहे थे मीट की बिक्री DA Image
14 दिसंबर, 2019|5:22|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नदी किनारे काटकर लाए पशु, घर से कर रहे थे मीट की बिक्री

नदी किनारे काटकर लाए पशु, घर से कर रहे थे मीट की बिक्री

अमरिया क्षेत्र में घर से प्रतिबंधित पशुओं का मीट बेचने की सूचना पर पुलिस ने छापा मारकर चार आरोपियों को तीस किलो मीट के साथ गिरफ्तार किया। आरोपियों के कब्जे से पशु काटने के उपकरण भी बरामद हुए हैं। पुलिस के मुताबिक तीन आरोपी फरार हो गए हैं। पकड़े गए आरोपियों के खिलाफ गोवध निवारण अधिनियम के तहत एफआईआर दर्ज कर जेल भेज दिया गया है।

एसओ अमरिया पुष्कर सिंह को सूचना मिली कि ग्राम धुंधरी में अजीम पुत्र कल्लू के घर में कई लोग मौजूद है। जो प्रतिबंधित पशुओं का वध करके मीट लाए हैं और घर पर ही इसकी बिक्री की जा रही है। इस पर पुलिस टीम ने छापा मारकर चार आरोपियों को दबोचकर उनके कब्जे से 30 किलो प्रतिबंधित पशु का मीट बरामद किया। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से पशु काटने के उपकरण भी बरामद किए। थाने लाकर की गई पूछताछ में पकड़े गए आरोपियों ने अपना नाम रियाज पुत्र कल्लू, अजीम पुत्र कल्लू,आदिल पुत्र अनवर, शहीर अहमद पुत्र शफी निवासी ग्राम धुंधरी बताया। आरोपियों ने बताया कि वह लोग अप्सरा नदी के किनारे जंगल में प्रतिबंधित पशुओं को काटकर उसका मीट गांव में ही फुटकर में बेचते हैं। पूछताछ में आरोपियों ने कुछ अन्य साथियों के नाम भी बताए। एसओ अमरिया ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया गया है। फरार आरोपियों की तलाश में दबिशें दी जा रही हैं।इंसेटबीट कांस्टेबल का स्पष्टीकरणइस मामले में एसपी अभिषेक दीक्षित ने बीट कांस्टेबल की लापरवाही मानी हैं। एसपी ने एसओ को क्षेत्र में प्रतिबंधित पशुओं का वध होने पर नाराजगी जताते हुए दोबारा घटना होने पर एक्शन लेने की चेतावनी दी। यह भी कहा कि ग्राम धुंधरी के बीट कांस्टेबल और चौकीदार का स्पष्टीकरण तलब किया जाए कि उनके क्षेत्र में हो रहे अवैघ धंधे की जानकारी उनको कैसे नहीं मिली।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Animals brought to the banks of the river were selling meat from home