DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  पीलीभीत  ›  शहर से गांव तक 80 कंटेनमेंट कहीं कागजों तो कहीं हवा में

पीलीभीतशहर से गांव तक 80 कंटेनमेंट कहीं कागजों तो कहीं हवा में

हिन्दुस्तान टीम,पीलीभीतPublished By: Newswrap
Mon, 24 May 2021 11:40 PM
शहर से गांव तक 80 कंटेनमेंट कहीं कागजों तो कहीं हवा में

संक्रमण रोकने लिए कंटेनमेंट जोन तो बनाए गए है। पर संक्रमितों के घर के आसपास कोई व्यवस्था न होने से संक्रमण फैलने की आशंकाएं जताई जा रही हैं। इसके उलट नगरीय क्षेत्रों में तो कंटेनमेंट हैं पर गांवों में ऐसा कोई इंतजाम नहीं किया गया है।

पंचायत चुनाव के बाद से गांवों की तरफ संक्रमण बढ़ा है। पूरनपुर ब्लाक के आंकड़ों की बात करें तो 17 मई तक 1094 मरीज संक्रमित थे। इनमें 230 होम आइसोलेट हैं। शहर से गांव तक 80 कंटेंनमेंट जोन बने। वहीं ग्रामीण अंचलों में बनाए गए कंटेंनमेंट जोन केवल कागजों पर हैं। अधिकांश गांवों में संक्रमितों के घर को जाने वाले रास्ते बंद नहीं किए गए हैं। होम आइसोलेट मरीज बाहर टहलते रहते हैं। आरोप है कि गांवों में होम आइसोलेट मरीजों को दवा और भोजन की तरफ जिम्मेदार भी ध्यान नहीं दे रहे हैं।

----

पूरनपुर शहर समेत गांवों में करीब 80 कंटेंनमेंट जोन हैं। शहर में जिस मोहल्ले में संक्रमितों की संख्या अधिक हैं। उन मोहल्लों की गलियों में बेरीकेडिंग कराई गई है। गांव के कंटेंनमेंट जोन में बेरीकेडिंग कराने की जिम्मेदारी खंड विकास अधिकारी की है।

- राजेंद्र प्रसाद, एसडीएम।

संबंधित खबरें