50/5000 peeleebheet shahar ke 1800 logon ko vot daalana hee nahin aaya 1800 people of Pilibhit city did not even vote - पीलीभीत शहर के 1800 लोगों को वोट डालना ही नहीं आया DA Image
18 नबम्बर, 2019|9:37|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीलीभीत शहर के 1800 लोगों को वोट डालना ही नहीं आया

पीलीभीत शहर के 1800 लोगों को वोट डालना ही नहीं आया

ईवीएम का असर इसकदर जनता पर चढ़ गया है कि अब बैलेट पेपर से वोट डालना ही लोग भूल गए हैं। खास तौर पर शहर वाले इसमें बहुत पीछे हैं। निकाय चुनाव में जो आंकड़े आए हैं, उससे यही लग रहा है। वहीं जिले में कई वोटर ऐसे भी हैं, जिनको पार्टियों की ओर से घोषित और निर्दलीय प्रत्याशी पसंद नहीं आए, लेकिन उन्होंने अपने अधिकार का प्रयोग कर नोटा पर वोट कर दिया।

चुनाव आयोग की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार पीलीभीत शहर नगर पालिका में सबसे ज्यादा वोट निरस्त कर दिए गए। यहां 1870 लोगों को वोट देना नहीं आया, उनके वोट रद कर दिए गए। सबसे कम वोट गुलड़िया भिंडारा में निरस्त किए गए। हालांकि वहां वोटरों की संख्या अपने आप कम ही थी। वोट निरस्तीकरण के मामले में बीसलपुर जिले में दूसरी पायदान पर रहा। यहां 1508 वोट निरस्त कर दिए गए। पूरनपुर में 718 लोगों ने गलत तरीके से वोट कर दिया। जहानाबाद में भी यह आंकड़ा 383 तक पहुंच गया। बरखेड़ा में 241 लोगों को सही से वोट देने का तरीका नहीं पता था। बिलसंडा में 349 लोग सही से वोट नहीं दे सके। इसी तरह से कलीनगर में 227 और न्यूरिया में 443 लोगों ने सही से वोट नहीं दिया, लिहाजा उनका वोट किसी प्रत्याशी को न जाकर रद कर दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: 50/5000 peeleebheet shahar ke 1800 logon ko vot daalana hee nahin aaya 1800 people of Pilibhit city did not even vote