DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  सौतेली बहनों ने गला दबाकर मारा था मासूम को

पडरौनासौतेली बहनों ने गला दबाकर मारा था मासूम को

हिन्दुस्तान टीम,पडरौनाPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 04:50 AM
सौतेली बहनों ने गला दबाकर मारा था मासूम को

सिसवा नाहर। हिन्दुस्तान संवाद

तरयासुजान थाना क्षेत्र के गांव रामपुर बंगरा में 8 वर्षीय मासूम संदीप की हत्या उसकी सौतेली बहनों ने ही गला दबाकर कर दी थीं। सोमवार को घटना का खुलासा करते हुए तरयासुजान पुलिस मासूम के दोनों सौतेली बहनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

एएसपी अयोध्या प्रसाद सिंह ने रामपुर बंगरा गांव निवासी रामनरेश खरवार ने अपने ही गांव के निवासी संजय चौहान की मौत होने पर उसकी पत्नी ललिता से दूसरी शादी की थी। दूसरी पत्नी के पहले पति का संतान मासूम संदीप था। इधर रामनरेश की पहली पत्नी की पांच संताने पहले से थे। दूसरी शादी के बाद से ही रामनरेश के परिवार में विवाद उत्पन्न होने लगा। सौतेली मां और पांचों बच्चों से कभी नहीं पटती थी। इधर मासूम संदीप 26 मई को घर से बगीचे की तरफ गया था। जब देर शाम घर नहीं पहुंचा। काफी तलाश के बाद सौतेले पिता रामनरेश ने 27 मई को उसके लापता होने की सूचना पुलिस को दी। इसके आधार पर पुलिस ने अपहरण का मुकदमा दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी। शनिवार को देर शाम घर से कुछ दूरी पर झाड़ झंखाड में संदीप का शव मिला। पोस्टमार्टम के उपरांत पुलिस मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच पड़ताल शुरू कर दी। संदेह के आधार पर रामनरेश खरवार की दोनों पुत्रियों को हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ की तो उन्होंने हत्या की बात कबूल कर ली। पता चला कि संपति में हिस्सेदारी के डर से रामनरेश की दोनों पुत्रियों ने मिलकर मासूम संदीप को 26 मई को घर से गायब करते हुए हत्या कर शव को छिपाने के नियति से घर से कुछ ही दूरी पर उगे झाड़ झंखाड में फेंक दिया। तरयासुजान थानाध्यक्ष धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि मासूम संदीप की सौतेले बाप की पुत्रियां कुमारी प्रियंका खरवार 20 व मनीषा खरवार 18 वर्ष ने ही संदीप की हत्या की है, जिन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

संबंधित खबरें