DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › शिक्षा से वंचित 15 हजार बच्चों को ढूंढेगा बेसिक शिक्षा विभाग
पडरौना

शिक्षा से वंचित 15 हजार बच्चों को ढूंढेगा बेसिक शिक्षा विभाग

हिन्दुस्तान टीम,पडरौनाPublished By: Newswrap
Wed, 01 Sep 2021 04:41 AM
शिक्षा से वंचित 15 हजार बच्चों को ढूंढेगा बेसिक शिक्षा विभाग

पडरौना। निज संवाददाता

जिले में शिक्षा से वंचित 15 हजार बच्चों को शिक्षा की मुख्य धारा में जोड़ने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग अभियान चलाकर ढूंढने का काम करेगा। आगामी 10 सितंबर से चलने वाले महा अभियान में शिक्षक, अनुदेशक, शिक्षामित्र शामिल होकर डोर टू डोर सर्वे करते हुए आउट आफ स्कूल बच्चों को चिह्नित करेंगे। इन चिह्नित बच्चों को 15 नवम्बर से नामांकन कराकर शिक्षा की मुख्य धारा से जोड़ा जायेगा।

आउट ऑफ स्कूल बच्चों के चिंह्निकरण, पंजीकरण व नामांकन के लिए शारदा कार्यक्रम यानी स्कूल हर दिन आये बच्चों को चिंह्निकरण के लिए अभियान चलाया जायेगा। आगामी 10 सितंबर से चलने वाले अभियान में 10.5 हजार शिक्षक, 235 अनुदेशक व 2738 शिक्षामित्रों की फौज लगाई जायेगी। इनके सहयोग में विद्यालय प्रबंध समिति के सदस्यों के अलावा समूहों को भी जोड़ा जायेगा। यह टीम नि:शुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकारी अधिनियम 2009 के अंतर्गत आउट आफ पांच साल से अधिक और 14 साल तक के बच्चों को डोर टू डोर सर्वे करने के साथ ईंट भट्ठा, दुकान व मलिन बस्तियों में पहुंचकर चिंह्नित करेगी। आगामी 15 अक्तूबर तक चलने वाले अभियान के बाद 15 नवंबर से 31 नवंबर तक इन बच्चों का नामांकन परिषदीय स्कूलों में कराया जायेगा। इसमें किसी भी कारणों को स्कूल नहीं जाने वाले तथा 45 दिन तक लगातार स्कूल छोड़ने वाले बच्चे शामिल होंगे। महानिदेश स्कूल शिक्षा के आदेश के बाद डीएम और बीएसए के आदेश पर जिला समन्वयक सामुदायिक सहभागीता उपेंद्र गुप्ता ने सभी बीईओ को पत्र जारी कर शिक्षकों की फौज को इस अभियान में लगाकर सफल बनाने का निर्देश दिया है। जनपद में 5 से 6 साल के 2284, 7 से 10 साल 9772 व 11 से 14 साल के 2984 बच्चों समेत कुल 15039 बच्चों को चिंह्नित कर शिक्षा की मुख्य धारा से जोड़ा जायेगा।

संबंधित खबरें