ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश मुजफ्फर नगरशहर से लेकर देहात तक सड़कों में गड्ढे ही गड्ढे

शहर से लेकर देहात तक सड़कों में गड्ढे ही गड्ढे

मुजफ्फरनगर। सड़कों को गड्ढों से मुक्ति दिलाने के लिए शासन के निर्देश का धरातल पर पालन नहीं हो रहा है। दीपावली बीत गई, लेकिन सड़कों को गड्ढों से मुक्त...

शहर से लेकर देहात तक सड़कों में गड्ढे ही गड्ढे
हिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फर नगरWed, 29 Nov 2023 12:10 AM
ऐप पर पढ़ें

मुजफ्फरनगर। सड़कों को गड्ढों से मुक्ति दिलाने के लिए शासन के निर्देश का धरातल पर पालन नहीं हो रहा है। दीपावली बीत गई, लेकिन सड़कों को गड्ढों से मुक्त नहीं किया गया है। आलम यह बना हुआ है कि शहर से लेकर देहात तक सड़कों में गड्ढे ही गड्ढे नजर आ रहे है। सड़कों में हुए गहरे गड्ढों के कारण हादसों को न्यौता मिल रहा है। महावीर चौक, प्रकाश चौक और कोर्ट रोड पर सड़कों में काफी गहरे गड्ढे हैं। वहीं सर्कुलर रोड पर बिलकुल खस्ता हाल बना हुआ है।

296.905 किलोमीटर सड़क को गड्ढा मुक्त कराने का दावा

मुजफ्फरनगर। लोक निर्माण विभाग की सड़कों का बुरा हाल बना हुआ है। लोक निर्माण विभाग की सड़कों में काफी गहरे गड्ढे बने हुए है। उधर, लोक निर्माण विभाग सभी सड़कों के गड्ढों को भरने की बात कर रहा है। लोक निर्माण विभाग ने शहर से लेकर देहात तक करीब 296.905 किलोमीटर सड़क को गड्ढा मुक्त कराने का दावा किया है।

लोक निर्माण विभाग उक्त सड़क पर पेंचवर्क का कार्य पूर्ण करने का दावा कर रहा है। इसके अलावा लोक निर्माण विभाग की करीब 137 सड़के ऐसी है जिनकी हालत खस्ता बनी हुई है। इन सड़कों की मरम्मत के लिए विभाग कार्य करा रहा है। लोक निर्माण विभाग के द्वारा उक्त सड़कों की स्पेशल मरम्मत कराने के लिए टेंडर और कार्य प्रक्रिया को शुरू किया गया है। एक्सईएन अनिल कुमार का कहना है कि लोक निर्माण विभाग के द्वारा 296.905 किलोमीटर को गड्ढा मुक्त कराते हुए लक्ष्य को पूरा कर दिया है। जनपद में करीब 137 सड़क ऐसे है जिनकी स्पेशल मरम्मत कराई जानी है। इसके लिए टेंडर और कार्य की प्रक्रिया शुरू हो गई है। जनपद में लोक निर्माण विभाग की मैन रोड पर कोई गड्ढा नहीं है।

जौला में सड़क की स्थिति बेहद खराब

बुढ़ाना। सरकार द्वारा दीपावली से पहले प्रदेश की सड़कों को बनवाने के आदेश दिए गए थे, लेकिन पीडब्ल्यूडी विभाग के अधिकारियों को गांव जौला की टूटी सड़क दिखाई ही नहीं दी। सड़क की हालत बेहद खराब है। वर्षों से जगह-जगह से सड़क टूटी हुई है। मरम्मत के नाम पर सड़क में ईंट ओर मिट्टी भर दी जाती है। जो वाहनों के आवागमन से कुछ दिन बाद फिर उसी स्थिति में पहुंच जाती है। ग्रामीणों अधिकारियों को कई बार इसकी शिकायत भी कर चुके हैं। लेकिन समस्या का कोई समाधान नही हो पाया है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें