DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दागी पुलिसकर्मियों को विभाग से किया जाएगा बर्खास्त: एडीजी

पुलिस विभाग की गरिमा को ठेस पहुंचने वाले दागी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई जल्द ही अमल में लायी जाएगी। पुलिसकर्मियों को चिन्हित कर उनके खिलाफ शासन को भेजी जाएगी,ताकि उनके खिलाफ कार्रवाई हो सके।

एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया कि पिछले कुछ दिन के भीतर कई ऐसे मामले सामने आये है, जिनमे खाकी को शर्मशार होना पड़ा। खाकी पहनकर पुलिसकर्मियों ने अपराध को अंजाम दिया है। सहारनपुर में व्यापारी से लूट करने वाले इंस्पेक्टर के खिलाफ भी कार्रवाई की गयी है। एडीजी मेरठ जोन ने कहा कि अपराधियों को संरक्षण देने वाले पुलिसकर्मियों को बख्शा नहीं जाएगा। उनके रडार पर कई ऐसे पुलिसकर्मी है। जो अपराधियों को शरण देते है। अपराधियों की पैरोकारी करने वाले पुलिसकर्मियों को चिन्हित किया जा रहा है। ऐसे पुलिसकर्मियों के खिलाफ रिपोर्ट तैयार कर शासन को भेजी जाएगी। उनकी सम्पत्ति की भी जांच कराएगी जाएगी। पुलिस विभाग की गरिमा को ठेस पहुंचाने वाले पुलिसकर्मियों का विभाग में कोई स्थान नहीं है। ऐसे पुलिसकर्मियों का रिकार्ड खंगाला जा रहा है। पिछले दिनों इस तरह के मामले भी सामने आये है। कुछ बडे अपराधी सेटिंग से कोर्ट में सरेंडर कर गये। उन सभी मामलों की जांच करायी जाएगी। उन्होंने बताया कि इस सरकार में पहले के मुकाबले पुलिस अधिक जोश से काम कर रही है। अपराध व अपराधियों का सफाया किया जा रहा है। उन्होंने सहारनपुर रेंज में मुजफ्फरनगर एसएसपी सुधीर कुमार सिंह, सहारनपुर एसएसपी दिनेश कुमार पी व एसपी शामली अजय कुमार के कार्यो की सराहना की। उन्होंने बताया कि सहारनपुर रेंज में अपराधियों को मुंह तोड़ जवाब दिया जा रहा है।मेरठ जोन में एक माह में 35 मुठभेडएडीजी जोन मेरठ प्रशांत कुमार ने बताया एक माह में जोन के भीतर 35 पुलिस मुठभेड़ हुई है। पुलिस मुठभेड़ के दौरान 51 अपराधियों को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेजा गया। मुठभेड़ के दौरान पुलिस की गोली लगने से 33 अपराधी घायल हुए है। मुठभेड़ में 5 पुलिसकर्मी भी जख्मी हुए है। मुठभेड में दो बदमाशों को पुलिस ने ढेर किया है। गिरफ्तार किये गये अपराधियों में से 23 ऐसे अपराधी है जिन पर पूर्व से इनामी घोषित था। एडीजी ने कहा कि पुराने इनामी अपराधियों को लेकर पुलिस टीम बनायी गयी है। ऐसे अपराधी जो पिछले कई सालों से भूमिगत है। वे अन्य राज्यों में रह रहे है। पुलिस टीम उनका रिकार्ड खंगाल रही हंै। मुजफ्फरनगर के पुराने अपराधी, जिन पर पिछले कई सालों से इनाम चला रहा है। उन्हें भी गिरफ्तार करने के लिए टीम बनायी गयी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Tainted policemen will be sacked from department