DA Image
12 अगस्त, 2020|11:20|IST

अगली स्टोरी

सांडू गैंग ने मांगी दस लाख की रंगदारी

default image

कुख्यात रोहित सांडू व उसके साथियों के पिछले साल जुलाई में पुलिस मुठभेड़ में मारे जाने के बाद भी उसके गुर्गे गैंग का नाम जिंदा रखे हुए हैं। रतनपुरी थाना क्षेत्र में सांडू गैंग के गुर्गो ने पट्रोल पंप मालिक से दस लाख की रंगदारी मांगी है। पांच दिन में रंगदारी न देने ओर पुलिस में शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी दी गई है। हालाकि पुलिस ने मामले में तीन संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया है। सठेडी गांव निवासी सतीश पुत्र सतपाल ने रतनपुरी थाने में तहरीर देते हुए बताया कि 27 जुलाई की शाम को उसके फोन पर अंजान नम्बर से कॉल आई। हैलो बोलते ही कॉल करने वाले युवक ने कहा कि में सांडू गैंग से बोल रहा हू। तूने बहुत पैसा जुटा लिया है। जिसमे से थोडा से हमे चाहिए। कहा कि हमे दस लाख रूपये चाहिए। अगर पांच दिन में रूपयों का इंतजाम नहीं हुआ तो तेरा तो अंजाम बुरा होगा ही साथ ही तेरे परिवार के लोग भी जान से जायेगें। मांगी गई रंगदारी के बाद से परिजनों में दहशत बन गई। सतीश ने पुलिस को जैसे ही रंगदारी की जानकारी दी ओर बताया कि धमकी देने वाले ने अपने को सांडू गैंग का बताया है थाने में हड़कंप मच गया। धमकी वाले नम्बर को सर्विसलांस पर लगाने के बाद से पुलिस बदमाशों का पता लगाने में जुट गई। हालाकि पुलिस ने तहरीर के आधार पर अज्ञात बदमाशों के विरूद्व थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया है। --पीड़ित ने पुलिस से लगाई सुरक्षा की गुहारदस लाख की रंगदारी में जिस तरह से सांडू गैंग का नाम सामने आया है उससे पीडित के परिजनों में दहशत बनी हुई है। बता दे कि सतीश व सुनील दो भाई है सतीश का मवाना क्षेत्र में तो सुनील का सठेडी के पास पट्रोल पंप है। सठेडी वाले पट्रोल पंप पर कई बार लूट की घटनाएं हो चुकी है। कई बार जान से मारने की धमकी भी मिल चुकी है। लेकिन इस बार धमकी देने वालों में सांडू गैंग का नाम आने से पुलिस में भी हड़कंप मचा हुआ है। सतीश ने पुलिस से सुरक्षा की गुहार लगाई है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Sandu gang asked for extortion of one million