DA Image
29 सितम्बर, 2020|3:59|IST

अगली स्टोरी

लॉकडाउन में घरों में पढ़ी गयी रमजान के पहले जुमे की नमाज

लॉकडाउन में घरों में पढ़ी गयी रमजान के पहले जुमे की नमाज

रमजान माह में पहले जुमे को नमाज घरों में पढ़ी गयी। लॉकडाउन के कारण कोई भी व्यक्ति मस्जिद में नमाज पढ़ने के लिए नहीं पहुंचा। एहतियात के तौर पर एसपी सिटी व सीओ सिटी ने शहर में फोर्स के साथ गश्त किया। जिला प्रशासन ने सभी लोगों को पहले नमाज पढ़ने के लिए सचेत कर दिया था। लॉकडाउन में लोगों से घरों में रहने की अपील की गयी है।

रमजान माह के पहले जुमे को लेकर जिला प्रशासन सुबह से ही अलर्ट था। पुलिस ने धार्मिक स्थलों के मौलानाओं से बातचीत करते हुए कहा था कि अपने अपने क्षेत्र में लोगों से घरों में रहकर जूमे की नमाज पढे। एसपी सिटी सतपाल ऑतिल, सिटी मजिस्ट्रेट अतुल कुमार, सीओ सिटी हरीश भदौरिया व शहर कोतवाल अनिल कपरवान जूमे की नमाज के दौरान क्षेत्र में गश्त पर निकल गए। एसपी सिटी ने शहर कोतवाली क्षेत्र की सभी मस्जिदों पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। मस्जिदों में केवल मौलाना व इमाम ने नमाज पढी। इसी तरह थाना सिविल लाइन व नई मंडी कोतवाली क्षेत्र में पुलिस ने भ्रमण किया। देहात क्षेत्र में भी एसएसपी के आदेश पर पुलिस जूमे की नमाज के दौरान भ्रमणशील रही। लोगों ने लॉकडाउन का पालन करते हुए जुमे की नमाज घरों से पढी। एसपी सिटी का कहना है कि क्षेत्र का भ्रमण करते हुए लॉकडाउन की स्थिति का जायजा लिया है। लॉकडाउन तोडने वाले व्यक्तियों के खिलाफ पुलिस को सख्त कार्रवाई के आदेश दिए गए है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Prayers offered before lockout in Ramadan in homes under lockdown