DA Image
23 जनवरी, 2021|7:27|IST

अगली स्टोरी

पुरकाजी को तहसील बनाने को मुख्यमंत्री से मिले विधायक

पुरकाजी को तहसील बनाने को मुख्यमंत्री से मिले विधायक

जनपद की पुरकाजी (सुरक्षित) विधानसभा सीट से भाजपा विधायक प्रमोद उटवाल ने पुरकाजी को तहसील घोषित कराने को मुख्यमंत्री से मिले और जिला प्रशासन द्वारा तैयार किया गय प्रस्तावित तहसील का प्रस्ताव भी मुख्यमंत्री को दिया। विधायक ने दावा किया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुरकाजी को जल्द ही तहसील घोषित कराने का आश्वासन दिया है।

वर्षों से जनपद के पुरकाजी कस्बे को तहसील घोषित किए जाने की मांग की जाती रही है। सदर तहसील मुजफ्फरनगर क्षेत्र में आने वाले पुरकाजी क्षेत्र के गांवों को तहसील व जिला मुख्यालय जाने के लिए पचास किलोमीटर से अधिक की दूरी तय करनी पडती है। जिसके चलते क्षेत्रवासियों की मांग पर विधायक प्रमोद उटवाल ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से लखनऊ में उनके आवास पर भेंट कर उनको जनपद से तैयार कराये गए प्रस्ताव को सौंप पुरकाजी को तहसील बनाने की मांग रखी गई। बताते चले कि विधायक प्रमोद उटवाल की मांग पर डीएम सेल्वा कुमार जे. ने विगत 26 दिसंबर में आयुक्त एवं सचिव राजस्व परिषद लखनऊ को उप जिलाधिकारी सदर द्वारा की गई जांच आख्या रिपोर्ट भेजी गई थी। डीएम के आदेश पर उपजिलाधिकारी सदर ने अपनी जांच रिपोर्ट में बताया कि पुरकाजी की प्रस्तावित नवीन तहसील में 96 राजस्व ग्रामों को मिलाकर नक्शा तैयार किया गया है। नवीन तहसील में 27 पूर्ण लेखपाल क्षेत्र सम्मलित किए गए है। हालांकि राजस्व परिषद के आदेश के अनुसार तहसील सर्जन हेतु 100 से 120 लेखपाल क्षेत्र का मानक है। मगर नई राजस्व सहिंता नियमानावली 2016 के अनुसार व्यवस्था है कि उक्त प्रस्ताव प्रशासनिक दक्षता बेहतर करने एवं जनहित के आधार पर प्रस्तुत किया जा रहा है। पुरकाजी में नई तहसील में पुरकाजी विकास खंड उसमे स्थित थाने व सदर ब्लॉक का आंशिक भाग व भोपा थाना क्षेत्र का आंशिक भाग सम्मलित किया जाना प्रस्तावित है।

प्रस्तावित तहसील में राजस्व अभिलेख के मानक भी नही हो रहे पूर्ण

पुरकाजी। एसडीएम सदर द्वारा पुरकाजी को तहसील बनाने को अपनी जांच आख्या रिपोर्ट में सात बिन्दुओं पर अपनी रिपोर्ट प्रेषित की गई। जिसमे उन्होने स्पस्ट किया कि प्रस्तावित पुरकाजी की नवीन तहसील के कार्यालय, आवासीय भवन हेतु ग्राम समाज की भूमि व अन्य सरकारी भूमि उपलब्ध नही है। प्रस्तावित नवीन तहसील मुख्यालय पर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, स्कूल, इंटर कॉलेज, महाविद्यालय, पुलिस स्टेशन, मंडी समिति, पंचायत कार्यालय, पशु चिकित्सालय वर्तमान में संचालित है। एसडीएम ने रिपोर्ट में स्पस्ट किया कि उपरोक्त प्रस्ताव में राजस्व परिषद के आदेशानुसार अंकित मानक पूर्ण नही हो रहे है। फिर भी उत्तर प्रदेश राजस्व सहिंता नियमानावली 2016 के अध्याय दो के नियम 3 की व्यवस्था के तहत प्रशासनिक दक्षता बेहतर करने व जनहित के दृष्टिगत पुरकाजी को तहसील बनाने के संबंध में प्रस्ताव संस्तुति सहित प्रेषित किया जा रहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:MLA meets Chief Minister to make Purkaji a tehsil