ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश मुजफ्फर नगरहत्या व जानलेवा हमलें में 15 आरोपियों को आजीवन कारावास

हत्या व जानलेवा हमलें में 15 आरोपियों को आजीवन कारावास

हत्या व जानलेवा हमलें में 15 आरोपियों को आजीवन कारावास

हत्या व जानलेवा हमलें में 15 आरोपियों को आजीवन कारावास
हिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फर नगरThu, 29 Feb 2024 08:25 PM
ऐप पर पढ़ें

बुढ़ाना कस्बे में साढ़े तीन साल पूर्व युवक की पीटकर हत्या के मामले में कोर्ट ने 15 आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। कोर्ट ने प्रत्येक आरोपी पर दस हजार रुपये का अर्थदंड भी लगाया है। हमले में आठ लोग घायल भी हुए थे। रास्ते में चारपाई डालकर बैठने को लेकर दोनों पक्षों के बीच विवाद हुआ था।

डीजीसी राजीव शर्मा व एडीजीसी रामनिवास पाल 12 अगस्त 2019 को जाकिर का चचेरा भाई वसीम व मोमनी बाइक से अपने घर जा रहे थे। रास्ते में इरशाद उर्फ गप्पा, गुलाम हसन, नफीस, फरमान व हसन आदि चारपाई डालकर बैठे हुए थे। वसीम ने चारपाई हटाने के लिए कहा तो दूसरे पक्ष के लोगों ने उसके साथ गाली गलौज कर दी। विरोध करने पर आरोपियों ने लाठी-डंडों से हमला बोल दिया। जिसके बाद उनके पक्ष में आए लोगों ने पथराव कर दिया था। हमले में शावेज, रसीला, इमरान, जुनैद, शाकिर, नदीम व रफीक आदि घायल हो गए थे। घायलों को उपचार के लिए जिला अस्पताल रैफर किया गया था। उपचार के दौरान रफीक की मौत हो गयी थी। इस मामले में बुढाना पुलिस ने जाकिर की तहरीर पर इरशाद, नफीस, फरमान, इरफान, अहसान, शहजाद, यूनुस, अनीस, सगीर, इरफान पुत्र अनवर, प्रवेज, तहसीन निवासीगण भटवाड़ा रोड बुढाना और धौला पुत्र नज्जु निवासी नंदपुरा थाना जानी जनपद मेरठ और वकील तथा शकील निवासी आशियाना सिटी थाना लोनी के खिलाफ गैर इरादतन हत्या की रिपोर्ट दर्ज की थी। पुलिस ने विवेचना के बाद इस मुकदमें को हत्या की धाराओं में तरमीम कर दिया था। एडीजीसी रामनिवास पाल ने बताया कि मामले की सुनवाई अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश अशोक कुमार की कोर्ट में हुई। कोर्ट ने दोनों पक्षों की बहस सुनने के पश्चात सभी आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। कोर्ट ने आरोपियों पर दस-दस हजार रुपये का अर्थदंड भी लगाया है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें