DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुजफ्फरनगर ट्रेन हादसा VIDEO: मृतकों की संख्या पर रेलवे और पुलिस उलझे

utkal express train accident

खतौली के पास हुए उत्कल एक्सप्रेस हुए हादसे में मृतकों और घायलों की संख्या पर रेलवे और पुलिस एकमत नजर नहीं आ रहे। रेलवे ने जहां हादसे में 21 लोगों की की मौत और 97 लोगों के घायल होने का दावा किया है, वहीं  डीजीपी हैडक्वार्टर ने मृतकों की तादाद 23 बताई है। सरकार हादसे में 156 लोगों के घायल होने की बात कह रही है। 

घायलों का खतौली, मुजफ्फरनगर और मेरठ के अलग-अलग अस्पतालों में इलाज चल रहा है। दूसरे दिन चार बोगियों के मलबे से चार और शव निकाले गए हैं। 20 से अधिक घायलों की हालत गंभीर बताई गई है। राहत एवं बचाव कार्य अभी भी जारी है। ट्रैक से बोगियों का मलबा दूसरे दिन भी नहीं हटाया जा सका है। इसकी वजह से मेरठ-देहरादून रेलवे ट्रैक ठप है। कई ट्रेनों को या तो रद्द कर दिया गया है या उनके रूट बदल दिए गए हैं।

शर्मनाक : हादसे के बाद चीख पुकार के बीच एसी कोच में लूटपाट 

सुबह 10 बजे तक की यह स्थिति ये है कि ट्रैक से केवल उन्हीं कोचों को हटाया जा सका था, जो सीधे खड़े हुए थे। खतौली के तिलकराम इंटर कॉलेज और चौधरी जगत सिंह के घर में घुसे ट्रेन के डब्बे अभी तक ज्यो की त्यों पड़े हुए हैं। रात 2:30 बजे बचाव और राहत में जुटी टीमों में तिलक राम इंटर कॉलेज के सामने पलटे हुए डब्बे के नीचे से एक महिला और किशोर की लाश को निकाल लिया। मलबे में और भी लोगों के दबे होने की आशंका है। मुख्यमंत्री के निर्देश पर प्रदेश सरकार में मंत्री सुरेश राणा और सतीश महाना मौके पर ही रुककर राहत एवं बचार्य कार्य पर नजर रखे हैं।

ट्रैक पर चल रहा था मरम्मत का काम इसलिए हुआ उत्कल एक्सप्रेस हादसा:रेलवे

रेलवे के सेफ्टी कमिश्नर करेंगे हादसे की जांच 

रेलवे ने उत्कल एक्सप्रेस हादसे की जांच के आदेश दे दिए हैं। रेलवे के सेफ्टी कमिश्नर ट्रेन दुघर्टना की जांच करेंगे। कहा जा रहा है कि देर शाम तक जांच रिपोर्ट सामने आएगी और हादसे का कारणों का खुलासा किया जाएगा। 

मुजफ्फरनगर रेल हादसा:प्रभु का आदेश, शाम तक तय हो जिम्मेदारी नहीं तो...

मारे गए अधिकांश लोगों की अभी शिनाख्त नहीं

ट्रेन हादसे के दूसरे दिन भी रेलवे मारे गए सभी लोगों की पहचान करने में नाकाम रहा है। अभी तक सिर्फ पांच शवों शिनाख्त की जानकारी स्थानीय स्तर पर दी गई है। कुछ घायलों की मेरठ में इलाज के दौरान मौत हुई है। मुजफ्फरनगर और मेरठ में शवों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। कई शवों की हालत बहुत खराब होने से पहचान मुश्किल हो रही है

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:indian railway and police have difrences on casuality in muzaffarnagar train accident