DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  मुजफ्फर नगर  ›  कोरोना संक्रमण की रफ्तार घटी तो जांच कराने वाले हो गए कम

मुजफ्फर नगरकोरोना संक्रमण की रफ्तार घटी तो जांच कराने वाले हो गए कम

हिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फर नगरPublished By: Newswrap
Mon, 24 May 2021 08:30 PM
कोरोना संक्रमण की रफ्तार घटी तो जांच कराने वाले हो गए कम

जिले में दूसरी लहर में तेजी से बढ़े कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर काबू पाने में प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग सफल रहा है। कोरोना संदिग्ध लक्षण वाले लोगों की अधिकाधिक जांच कराने को नगर में रेलवे स्टेशन, भोपा रोड पर मॉल व जिला चिकित्सालय आदि में बनाए गए कोरोना जांच केंद्रों पर बहुत कम लोग जांच कराने को पहुंचे। यह केंद्र अधिकांश समय खाली ही रहे। महावीर चौक के जांच केंद्र पर जरूर काफी संख्या में लोगों ने अपने सैंपल देकर रैपिड एंटीजन और आरटीपीसीआर जांच कराई।

पूर्व में नगर में केवल जिला चिकित्सालय और महावीर चौक के जांच केंद्रों पर ही कोरोना सैंपल की जांच की जा रही थी। इसके अलावा लोग प्राइवेट लैब से भी अपनी जांच करा रहे थे। पिछले दिनों लगातार बढे संक्रमण और दोनों जांच केंद्रों पर काफी संख्या में लोगों की भीड़ को देखते हुए शहर में कुछ और जांच केंद्रों को खोलने की मांग की जा रही थी। प्रशासन ने कुछ अन्य स्थानों पर जांच केंद्र खोले और रेलवे स्टेशन पर भी आने वाले यात्रियों की जांच शुरू की लेकिन मुजफ्फरनगर स्टेशन पर बहुत कम यात्री दिनभर में ट्रेनों से सफर कर रहे हैं। इसी कारण रेलवे स्टेशन का जांच केंद्र दिनभर में खाली रहा। इक्का दुक्का रेल यात्रियों ने ही संदिग्ध लक्षण पर जांच कराई। इसके अलावा सोमवार को जिला चिकित्सालय के जांच केंद्र पर भी दिन में कई बार लोग नही दिखे और जांच केंद्र खाली रहा। जबकि भोपा रोड पर एंबुलैंस में जांच टीम खडी रही लेकिन यहां पर भी बहुत कम लोगों ने दिनभर में जांच कराई। हालांकि महावीर चौक के जांच केंद्र पर जरूर दोपहर तक भीड रही। यहां पर आरटीपीसीआर और रैपिड एंटीजन दोनों तरह की जांच की गई। रैपिड एंटीजन की रिपोर्ट तो तत्काल ही बता दी गई। पूरे जिले में कुल 21 जांच केंद्र बनाए गए हैं जिनमें से छह शहर में ही थे।

संबंधित खबरें