DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  मुजफ्फर नगर  ›  मध्यप्रदेश हाइकोर्ट से बुजुर्ग दम्पत्ति के वारंट होने पर पकड़ा
मुजफ्फर नगर

मध्यप्रदेश हाइकोर्ट से बुजुर्ग दम्पत्ति के वारंट होने पर पकड़ा

हिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फर नगरPublished By: Newswrap
Mon, 14 Jun 2021 10:10 PM
मध्यप्रदेश हाइकोर्ट से बुजुर्ग दम्पत्ति के वारंट होने पर पकड़ा

मध्यप्रदेश हाइकोर्ट से गिरफ्तारी वांरट जारी होने पर जबलपुर पुलिस ने जनपद क्राइम ब्रांच के साथ मिलकर बुजर्ग दम्पत्ति को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस दोनों को लेकर मध्यप्रदेश लौट गयी। बुजर्ग दम्पत्ति की पुत्रवधु ने हाइकोर्ट में अपने बेटे की कस्टडी लेने के लिए याचिका दायर की थी।

मूल रुप से शाहपुर थाना क्षेत्र के गांव गोयला निवासी वीरेन्द्र जबलपुर मध्यप्रदेश में काम करता था। वहां छह साल पूर्व उसके बेटे की मौत हो गयी थी। उस समय उसका पौता दो साल का था। पुलिस का कहना है कि बेटे की मौत होने पर उसकी पुत्रवधु अपने दो साल के बेटे को छोडकर चली गयी थी। फिलहाल यह परिवार नई मंडी कोतवाली क्षेत्र के अलमासपुर में रह रहा था। अब बुजुर्ग दम्पत्ति की पुत्रवधु ने मध्यप्रदेश हाइकोर्ट में अपने बेटे की कस्टडी लेने के लिए याचिका दायर की थी। कोर्ट से बुजुर्ग दम्पत्ति को पेश होने के लिए समन जारी किए गए, लेकिन दोनों अपने पौते को लेकर पेश नहीं हुए। मध्यप्रदेश हाइकोर्ट ने बुजुर्ग दम्पत्ति के गिरफ्तारी वारंट जारी करते हुए वहां के डीजीपी व एसएसपी से जबाव तलब किया था। पिछले कई दिन से जबलपुर बुजुर्ग दम्पत्ति की तलाश कर रही थी। क्राइम ब्रांच प्रभारी संजीव यादव ने बताया कि गिरफ्तारी वारंट जारी होने पर बुजुर्ग दम्पत्ति अलमासपुर से मेरठ में एक किराए के मकान में रहने लगे। सोमवार को मेरठ में दबिश देकर बुजुर्ग दम्पत्ति को जबलपुर पुलिस को सौंप दिया गया है।

संबंधित खबरें