DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  मुजफ्फर नगर  ›  जिले में आठ नए कोरोना पॉजिटिव मिले, तीन मरीज ठीक हुए

मुजफ्फर नगरजिले में आठ नए कोरोना पॉजिटिव मिले, तीन मरीज ठीक हुए

हिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फर नगरPublished By: Newswrap
Wed, 24 Jun 2020 02:17 AM
जिले में आठ नए कोरोना पॉजिटिव मिले, तीन मरीज ठीक हुए

जिले में आठ नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। इनमें से दो अबुपुरा मौहल्ले के जबकि छह मौहल्ला कृष्णापुरी के निवासी है। नए मामले मिलाकर कोविड अस्पताल में भर्ती मरीजों की संख्या 81 हो गई है। जबकि तीन मरीज ठीक होने के कारण डिस्चार्ज किए गए हैं।

इस तरह से जिले में ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 161 हो गई है। मुजफ्फरनगर के प्रशासन को मंगलवार को कुल 48 सैंपल की रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमें से आठ की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है। सभी आठ नए मामले पहले से संक्रमित मिले दो कोरोना पॉजिटिव की कांटेक्ट चेन से जुड़े हुए हैं। इनमें दो मौहल्ला अबुपुरा में मिले एक संक्रमित के कांटेक्ट चेन में शामिल हैं जबकि छह मौहल्ला कृष्णापुरी के हैं। यह भी उक्त व्यक्ति की कांटेक्ट चेन में ही शामिल हैं। जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे. ने इसकी पुष्टि करते हुए ट्वीट किया है।

उधर मुजफ्फरनगर मेडिकल कॉलेज में बने कोविड अस्पताल में भर्ती मरीजों के ठीक होने का सिलसिला जारी रहा। लगातार दूसरी रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद तीन मरीजों को ठीक होने पर डिस्चार्ज कर दिया गया है। इनके जाने के बाद कोविड एल-1 अस्पताल में भर्ती मरीजों की संख्या 81 रह गई है। उधर ठीक होने वाले मरीजों का आंकड़ा 161 पर पहुंच गया है। इस तरह से लगभग 66 प्रतिशत से अधिक मरीज ठीक हो चुके हैं जबकि एक्टिव केस की संख्या अभी 34 प्रतिशत है।

मुजफ्फरनगर में कोरोना संक्रमित मरीजों के ठीक होने का आंकड़ा रिकवरी रेट अच्छा चल रहा है। मरीज आराम से रिकवर हो रहे हैं। अब तक जो मौत मेरठ मेडिकल या मेरठ के निजी अस्पताल तथा एम्स ऋषिकेश में हुई हैं उन सभी को पहले से ही कोई न कोई घातक बीमारी होने की पुष्टि भी हुई थी। मरने वालों में चार तो नियमित अंतराल में डायलेसिस कराते थे। इसके अलावा कुछ अन्य बीमारियों से गंभीर बीमार थे।

रोडवेज, शामली स्टैंड व चरथावल से लिए रैंडम सैंपल

कोरोना की चेन तोडने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने अपनी सैंपलिंग बढ़ाई है। अब करीब डेढ सौ सैंपल प्रतिदिन लिए जा रहे हैं। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. प्रवीण चोपड़ा ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की मोबाइल यूनिट ने पहुंचकर रोडवेज बस स्टैंड पर रोडवेज बसों में जा रहे चालक व परिचालक के रैंडम सैंपल लिए।

इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम शामली बस स्टैंड पर पहुंची और प्राइवेट बसों में सवारी ढो रहे चालक व परिचालकों के सैंपल लिए। यहां से चरथावल कस्बे में पहुंचकर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने महिला और पुरुषों की औचक कोरोना सैंपलिंग की। सीएमओ डा. प्रवीण चोपडा ने बताया कि जो संक्रमित मिल रहे हैं उनकी कांटेक्ट चेन के अलावा उनकी गतिविधियों को देखते हुए नगर व देहात के गांवों कस्बों में भी कोरोना की औचक सैंपलिंग कराई जा रही है।

संबंधित खबरें