DA Image
Sunday, December 5, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश मुजफ्फर नगरभाजपा के डा.वीरपाल निर्वाल जिला पंचायत अध्यक्ष निर्वाचित हुए

भाजपा के डा.वीरपाल निर्वाल जिला पंचायत अध्यक्ष निर्वाचित हुए

हिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फर नगरNewswrap
Sat, 03 Jul 2021 07:11 PM
भाजपा के डा.वीरपाल निर्वाल जिला पंचायत अध्यक्ष निर्वाचित हुए

भारतीय जनता पार्टी के डा.वीरपाल निर्वाल जिला पंचायत अध्यक्ष निर्वाचित हुए हैं। उन्होंने संयुक्त विपक्ष के प्रत्याशी सत्येंद्र बालियान को 26 वोट के भारी अंतर से हराया। डा.वीरपाल निर्वाल को 30 और सत्येंद्र बालियान को केवल चार वोट मिली। विपक्ष के खेमे के 9 जिला पंचायत सदस्यों ने प्रशासन पर सत्तारूढ दल के नेताओं के दबाव में काम करने का आरोप लगाते हुए मतदान में भाग नही लिया जिस कारण 43 वोट में से केवल 34 वोट ही पड़े।

सुबह कड़ी सुरक्षा में शुरू हुए मतदान में भाजपा के समर्थक सभी तीस जिला पंचायत सदस्य एक साथ विधायक उमेश मलिक के नेतृत्व में पुलिस सुरक्षा में एक ही काफिले में वोट देने के लिए पहुंचे। यहां कचहरी गेट पर अंबेडकर प्रतिमा के निकट आठ जिला पंचायत सदस्यों को वोट डालने के लिए कलेक्ट्रेट गेट पर हेल्पर भी उपलबध कराए गए। सभी भाजपा समर्थक एकसाथ ही वोट डालने के लिए पहुंचे। विधायक उमेश मलिक व विक्रम सैनी तो बाहर ही रुक गए लेकिन भाजपा समर्थक जिला पंचायत सदस्य अपनी गाड़ी समेत अंदर गए और वोट देने को लाइन में लग गए। उन्होंने 12.30 बजे तक अपनी वोट भी डाल दी। उधर रालोद के दो जिला पंचायत सदस्यों इरशाद सावटू व अंकित बालियान को लेकर पूर्व मंत्री योगराज सिंह कचहरी गेट पर पहुंचे। यहां से दोनों सदस्यों को वोट देने के लिए अंदर जाने दिया गया। दोनों ने वोट डाली। संयुक्त विपक्ष की ओर से प्रत्याशी सतेंद्र बालियान भी अपने साथ जिला पंचायत सदस्य आरिफा को वोट डलवाने के लिए लेकर आए। जिस समय वह वोटिंग के लिए जिलाधिकारी कोर्ट कक्ष में पहुंचे वहां पर भाजपा सदस्य अपनी लाइन में लगे हुए थे। हालांकि सतेंद्र बालियान और आरिफा ने वोट दिया लेकिन बाहरआ कर सतेंद्र बालियान ने आरोप लगाया कि प्रशासन ने सत्ता के दबाव में आकर हेल्पर उपलबध करा दिए हैं जबकि उन्हें एक दिन पूर्व पत्र जारी कर अवगत कराया गया था कि जिला पंचायत चुनावों में हेल्पर नही दिया जाएगा। उनके पक्ष को हेल्पर नही देकर भाजपा पक्ष के लोगों को हेल्पर दे दिए हैं। उन्होंने इस पर कड़ी आपत्ति जताई।

--न अंतरात्मा की बात चली न हुई क्रॉस वोटिंग

मुजफ्फरनगर। जिला पंचायत चुनावों में विपक्ष की सारी आस भाजपा प्रत्याशी के समर्थन में एकजुट रहे सात मुस्लिम जिला पंचायत सदस्यों पर ही टिकी हुई थी। उम्मीद की जा रही थी कि वह क्रॉस वोटिंग कर भाजपा प्रत्याशी के बजाए संयुक्त विपक्ष के प्रत्याशी को वोट देंगे। देवबंद से लेकर दिल्ली तक से इन मुस्लिम जिला पंचायत सदस्यों व इनके परिजनों पर दबाव बनाया गया था। बड़े बड़े मुस्लिम नेता और खुद चौधरी नरेश टिकैत ने भी इनसे बात की थी। इसके बावजूद यह भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में एकजुट रहे। चौधरी नरेश टिकैत ने अंतरात्मा की आवाज पर वोट देने का आहवान दो दिन पूर्व किया था। पर चुनावों में भाजपा ने इन सभी मुस्लिम जिला पंचायत सदस्यों के साथ हेल्पर भेजकर विपक्ष की सारी रणनीति को ही विफल कर दिया। ना तो किसी भी जिला पंचायत सदस्य ने क्रॉस वोटिंग की और ना ही किसी जिला पंचायत सदस्य ने अंतरात्मा की आवाज पर वोट देने की अपील स्वीकार की बल्कि वोट देने के बाद मुस्लिम जिला पंचायत सदस्य शाहनवाज ने कहा कि यह कोई पार्टी का चुनाव नही था। हमें सतेंद्र बालियान और डा.वीरपाल निर्वाल में से एक को वोट देना था। डा.वीरपाल निर्वाल को हमने अंतरात्मा की आवाज पर अच्छा केंडिडेट मानकर वोट दिया। उन्होंने कहा कि विपक्ष के इशारे पर लगातार उनके खिलाफ आंदोलन हुआ लेकिन वह शुरूआत से ही भाजपा के प्रत्याशी के साथ रहे और उनकी जीत तक उनके साथ बने रहे।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें