ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश मुजफ्फर नगरकूड़ा बीनते तीन बच्चों को चाइल्ड लाइन टीम ने रेस्क्यू किया

कूड़ा बीनते तीन बच्चों को चाइल्ड लाइन टीम ने रेस्क्यू किया

कूड़ा बीनते तीन बच्चों को चाइल्ड लाइन टीम ने रेस्क्यू किया

कूड़ा बीनते तीन बच्चों को चाइल्ड लाइन टीम ने रेस्क्यू किया
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फर नगरSun, 05 Dec 2021 06:15 PM
ऐप पर पढ़ें

चाइल्ड लाइन डिस्ट्रिक्ट कॉर्डिनेटर राखी देवी ने बताया कि उन्हें मीडियाकर्मीयों द्वारा कॉल कर जानकारी दी कि कुछ बच्चों को उन्होंने कूड़ा बीनते देखा है। जिन बच्चों को स्कूल में शिक्षा ग्रहण करने चाहिए । वह बच्चे कूड़ा बीन रहे हैं। चाइल्ड लाइन इन बच्चों को स्कूल तक पहुंचाने में आवश्यकतानुसार मदद करें। जिसके बाद चाइल्ड लाइन टीम मौके पर पहुंची और मामले का संज्ञान लिया। इस दौरान टीम को मौके पर 3 बच्चे कूड़ा बीनते मिले। टीम ने पूलिस की मदद से बच्चों रेस्क्यू कर लिया।

रविवार को न्यू मंडी थाना क्षेत्र स्थित बालाजी धाम के पास कुछ बच्चे कूड़ा बीन रहे थे। इसी दौरान कुछ मीडिया कर्मियों की उन बच्चों पर नजर पड़ी तो उन्होंने जागरूकता का परिचय देते हुए तुरंत चाइल् डलाइन हेल्पलाइन नंबर 1098 पर काल कर जानकारी दी। काल आने के बाद हरकत में आई चाइल्ड लाइन टीम मौके पर पहुंची और पुलिस की मदद से तीन बच्चों को रेस्क्यू कर लिया। उन्हें बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश किया। बाल कल्याण समिति में बच्चों की काउंसलिंग की गई। काउंसलिंग में बच्चों ने बताया कि वह किसी भी स्कूल में नहीं पढ़ना चाहते हैं और कूड़ा बीनकर प्रतिदिन 500, 600 रुपए कमा लेते हैं। स्कूल जाकर क्या करेंगे। बाल कल्याण समिति की अध्यक्षा बीना शर्मा ने बच्चों को समझाया कि शिक्षा मानव जीवन के लिए कितनी आवश्यक है और बच्चों के लिए शिक्षा का अपना अलग ही महत्त्व है। बच्चों के माता-पिता को भी समझाया कि उन्हें अपने बच्चों को स्कूल भेजना चाहिए न कि यह कूड़ा बीनने का काम कराना चाहिए। बच्चों के माता-पिता सरवट फाटक नसीरपुर गली नंबर 2 के रहने वाले हैं। बच्चे के माता-पिता ने कहा कि वे उन्हें स्कूल भेजते हैं, लेकिन बच्चे स्कूल नहीं जाते। बच्चों के माता-पिता को बाल कल्याण समिति के सभी सदस्य द्वारा समझाया गया और उनके सभी दस्तावेज देखकर बच्चों की सुपुर्दगी माता-पिता को दे दी गई। चाइल्ड लाइन कार्यालय से काउंसलर ममता और अमन कुमार उपस्थित रहे।

epaper