अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गेहूं के स्थान पर धान अधिक पैदावार करें : डीएम

जिला कृषि योजना राष्ट्रीय उत्पादकता परिषद के तहत प्रस्तुतिकरण में जिलाधिकारी राजीव शर्मा ने कृषि की कार्ययोजना में गेहूं के स्थान पर धान की अधिक खेती करने को कहा।

बुधवार को जिला पंचायत के सभागार में किसानों की बैठक में डीएम ने किसानों को उत्तम सुझाव दिये और प्रगतिशील किसानों से सुझाव लिये भी। प्रगतिशील कृषक बधाई कलां अरविन्द मलिक ने सुझाव दिया गया कि गन्ना मिलों में एमएचएटी प्लांट लगाये गये हैं, जिनका उपयोग कृषकों द्वारा नहीं किया जाता है। उनके स्थान पर कोयम्बटूर द्वारा तैयार गन्ना सीड ट्रीटमेन्ट डिवाईस को योजना मे शामिल किया जाये तथा गन्ना सीड ट्रीटमेन्ट डिवाईस हेतु समूह को प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाये। बैठक मे जिला पंचायत अध्यक्षा आंचल तोमर, सीडीओ अर्चना वर्मा, कृषक समूह के सदस्य प्रगतिशील कृषक के साथ साथ कृषि से सम्बधिंत अधिकारियो ने भाग लिया गया। राष्ट्रीय उत्पादकता परिषद नई दिल्ली के निदेशक डा. आरपी सिंह द्वारा कार्ययोजना का प्रस्तुतिकरण किया गया। उद्यान विभाग के अन्तर्गत लो टनल पालीनेट से सब्जी की पौध शिमला मिर्च, टमाटर, बन्द गोभी, फूल गोभी, कुकरविट्स के साथ-साथ फूलों की खेती कृषक उत्पादक समूहों के माध्यम से फल एवं सब्जियों की ग्रेडिंग एवं पैकिंग के साथ-साथ मधुमक्खी पालन पर अनुदान, मधुमक्खी पालन से सम्बन्धित प्रशिक्षण, शहद उत्पादन यूनिट पर अनुदान, मशरूम उत्पादन एवं वर्मी कम्पोस्ट उत्पादन पर अनुदान का प्रोत्साहन योजना में किया गया है। जिला पंचायत अध्यक्षा ऑंचल तोमर ने अध्यक्षीय भाषण में कहा कि जनपद के कृषकों की आवश्यकता को दृष्टिगत रखते हुए योजना को और अधिक प्रभावी बनाया जाये, जिससे कृषकगण योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ प्राप्त कर कम लागत में अधिक से अधिक लाभ प्राप्त कर सकें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Asked to grow more paddy instead of wheat DM