DA Image
20 अक्तूबर, 2020|2:46|IST

अगली स्टोरी

कृषि बिल किसानों की फसल के बाजार को खत्म करेगा: हरेंद्र मलिक

कृषि बिल किसानों की फसल के बाजार को खत्म करेगा: हरेंद्र मलिक

पूर्व सांसद एवं कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी की सलाहकार समिति के सदस्य हरेंद्र मलिक ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा संसद में पारित कृषि अध्यादेश के बाद बने नए कृषि कानून से किसानों की फसल के बाजार खत्म होंगे और जमाखोरी को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा कि कृषि कानून के विरोध में 6 अक्टूबर को एक बड़ी पंचायत की अनुमति प्रशासन से मांगी गई है।

प्रेमपुरी स्थित अपने आवास पर किसानों की पंचायत आयोजित कर पूर्व सांसद हरेंद्र मलिक ने उनसे केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानूनों पर विचार किया। सभी वक्ताओं ने कहा कि केंद्र सरकार के कृषि कानून से किसानों की फसल का बाजार अंधकार में हो जाएगा। बड़ी कंपनियों के हाथों किसानों की फसल होने पौने दामों पर जाएगी। इस कानून से मंडिया समाप्त हो जाएंगी। केंद्र सरकार को कृषि कानून वापस लेने के लिए दबाव बनाने को 6 अक्टूबर को विशाल किसान पंचायत करने का निर्णय भी लिया गया। हालांकि पूर्व सांसद हरेंद्र मलिक ने कहा कि प्रशासन यदि अनुमति देगा तो कोविड-19 गाइड लाइन का पालन करते हुए इस पंचायत का आयोजन किया जाएगा। इसके लिए प्रशासन से बड़े मैदान की मांग की है। ताकि किसान अलग-अलग समूह में बैठकर पंचायत आयोजित कर सकें। इस पंचायत का संचालन राजेंद्र सिंह तितावी ने किया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Agriculture bill will eliminate crop market of farmers Harendra Malik