Three youths of Bareilly killed in road accident on highway in amroha - अमरोहा में हाईवे पर बेकाबू होकर पलटी कार, बरेली के तीन युवकों की मौत DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमरोहा में हाईवे पर बेकाबू होकर पलटी कार, बरेली के तीन युवकों की मौत

अमरोहा में हाईवे पर बेकाबू होकर पलटी कार, बरेली के तीन युवकों की मौत

डिडौली कोतवाली क्षेत्र में शनिवार रात डेढ़ बजे दिल्ली से लौट रहे युवकों की कार अनियंत्रित होकर हाईवे पर पलट गई। हादसे में कार सवार बरेली के तीन युवकों की मौत हो गई। रात डेढ़ बजे हुए हादसे की जानकारी मिलने पर पुलिस पहुंची। शवों को कार से निकाल कर मोर्चरी पर रखवाया। हादसे में मौत की खबर सुन परिजनों में कोहराम मच गया। रोते बिलखते परिजन पोस्टमार्टम हाउस पर पहुंचे।

शनिवार की रात डेढ़ बजे डिडौली कोतवाली गांव के सामने कार अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकरा कर पलट गई। गहरी नींद में सो रहे लोग कार सवारों की चीख पुकार सुन हड़बड़ा कर उठे और घटना स्थल की तरफ दौड़ पड़े। मौके का मंजर देख रूह कांप गई। सूचना पाकर पुलिस पहुंची। लोगों की मदद से कार सवारों को बाहर निकाला। बरेली के नेकपुर मणिनाथ सुभाष नगर निवासी ओम प्रकाश (38) पुत्र राम चरन, धर्मेंद्र (32) पुत्र नन्हे लाल शर्मा और जय प्रकाश (30) पुत्र निरंजन की सांसें थम चुकी थीं। जबकि, बरेली के ही बारादरी निवासी हरवंश पुत्र महेश गंभीर रूप से घायल था। पुलिस ने शव मोर्चरी पर रखवाया। घायल को भर्ती कराया। इसके बाद पुलिस ने हादसे में तीन युवकों की मौत की खबर उनके परिजनों को दी। जानकारी मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया। रोते बिलखते परिजन, रिश्तेदार और परिचित पोस्टमार्टम हाउस पर पहुंचे। डिडौली कोतवाल देवेंद्र कुमार ने बताया कि शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए गए हैं।

कार की रफ्तार कम होती तो शायद बच सकती थी जान

अमरोहा। हाईवे से लेकर अन्य सभी मार्गों पर हादसे होने का प्रमुख कारण वाहनों की तेज रफ्तार है। परिवहन विभाग की लापरवाही के चलते ही चालक वाहनों को हवा की रफ्तार से दौड़ाते हैं। अगर हाईवे पर चेकिंग होती रहे तो चालक मानक से अधिक नहीं दौड़ा सकते।

परिवहन का काम ओवरलोड, ओवर स्पीड, डग्गामार वाहनों की धर पकड़ है। ओवरलोड, ओवर स्पीड और डग्गामार वाहन हादसों का कारण बनते हैं। लोगों का कहना है परिवहन विभाग द्वारा ओवर स्पीड वाहनों की धर पकड़ को कभी चेकिंग ही नहीं की जाती। न ही कभी उन चालकों के खिलाफ कार्रवाई की गई, जो तेज रफ्तवार वाहन दौड़ाते हैं। जबकि ओवरलोड, ओवर स्पीड दौड़ाने पर लाईसेंस निरस्त होने का प्रावधान भी है। मगर परिवहन विभाग ने चुप्पी साध रखी है। जिसका फायदा वाहनों के चालक उठा रहे हैं। एआरटीओ प्रवर्तन एके सिंह राजपूत ने बताया कि ओवरलोड, ओवर स्पीड वाहनों की धर पकड़ के लिए चेकिंग चलती रहती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Three youths of Bareilly killed in road accident on highway in amroha