DA Image
9 अगस्त, 2020|7:24|IST

अगली स्टोरी

बदलाव : इन्होंने तो ले लिया आठवां फेरा, अब आपकी बारी 

हिन्दुस्तान की मुहिम आठवां फेरा एक बदलाव की शुरुआत है। इससे पति-पत्नी के बीच के रिश्ते को नई पहचान और मजबूती मिलेगी। समानता के अधिकारों के साथ महिलाएं भी अपने सपनों को जी सकेंगी। शादी के बाद गृहस्थी में फंसकर उन्हें अपने सपनों को कुर्बान नहीं करना होगा। यह फेरा महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाएगा। इससे न केवल उनका आत्मविश्वास बढ़ेगा बल्कि वे तरक्की के नए आयाम स्थापित करेंगी।

 

हिन्दुस्तान का आठवां फेरा बदलेगा लोगों की सोच

 

सिप एंड बाइट की ओनर यशोमनी जैन का कहना है कि हिन्दुस्तान के इस अभियान से जुड़कर काफी सुखद अहसास हुआ | ऐसे अभियान से समाज के हर वर्ग में एक साकारात्मक बदलावा लाया जा सकता है। उनके पति अभिषेक जैन का कहना है कि स्वयं के सपनों को पूरा करने के साथ ही अपने साथी के सपनों को समझना और इसे पूरा करने में अपना भी योगदान देना मेरे लिए आठवें फेरे जैसा है। हिन्दुस्तान ने इसे बखूबी बताया भी है। इसे मैंने खुद तो समझा ही है औरों को भी आठवां फेरा लेने के लिए प्रेरित करूंगा।

 

आठवें फेरे ने समानता के भाव को और गहराई से समझाया...

ऑल इंडिया रेडियो में सिंगर निधि गुप्ता का कहना है कि आठवां फेरा का संकत्प तभी पूरा होगा, जब पति और पत्नी दोनों ही इसका मकसद समझेंगे। इस फेरे के लिए भी पति और पत्नी को एक साथ कदम बढ़ाना होगा और बदलाव लाना होगा। उनके पति वरुण गुप्ता का कहना है कि मेरे और मेरी पत्नी के बीच आपसी समझ बहुत अधिक है। हालांकि न स्तान के आठवें फेर अभियान से जुड़कर हमने इस समझ, एक दूसरे का सम्मान और अधिकार को और गहराई से समझा है | आठवां फेरा हमने तो ले लिया आप सभी कब लोगे।

 

आठवां फेरा पति-पत्नी के रिश्तों को और मजबूती देगा...

 

ग्लोबल पब्लिक सकल की प्रिंसिपल शातिनी गुप्ता का कहना है कि हिन्दुस्तान द्वारा चलाई गई आठवें फेरे की मुहिम वास्तव में पति पत्नी के रिश्तों को नई मजबूती और समानता दिलाएगी। आठवां फेरा हर उस फेरे से बढ़कर है, जो हम विवाह के वक्‍त अपने जीवन साथी के साथ लेते हैं। इस अभियान से जुड़कर हमने आठवां फेरा लिया है | उनके पति रजत गुप्ता का कहना है कि मैं हिन्दुस्तान के माध्यम से सभी पुरुषों से यह कहना चाहता हूं कि यदि हम अपनी संगिनी को सभी अधिकार और प्यार देते हैं तो आर्थिक समानता का अधिकार क्यूं नहीं। 

 

हिन्दुस्तान का आठवां फेर सभी के लिए एक सार्थक पहल...

 

मॉड्यूलर किचेन बिजनेस से जुड़ीं रेनू सिंह का कहना है कि हिन्दुस्तान का आठवां फेरा एक सार्थक पहल है। यदि महिलाओं को समानता एवं स्वावलंबन उनके घर से ही मिलेता तो वास्तव में समाज और देश की तस्वीर बदलेगी। उनके पति कुलदीप सिंह का कहना हैं कि महिला समानता एवं सशक्तिकरण के लिए आठवां फेरा एक महत्वपूर्ण विषय है। इस विषय को सामाजिक चेतना के रूप में स्थापित करने की हिन्दुस्तान की पहल सराहनीय है। मैं खुद तो इस अभियान से जुड़ा ही हूं, और लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करने का संकल्प लिया है।

 

हिन्दुस्तान का आठवां फेरा सभी के लिए एक सार्थक पहल...

 

मॉड्यूलर किचेन बिजनेस से जुड़ीं रेनू सिंह का कहना है कि हिन्दुस्तान का आठवां फेरा एक सार्थक पहल है। यदि महिलाओं को समानता एवं स्वावलंबन उनके घर से ही मिलेता तो वास्तव में समाज और देश की तस्वीर बदलेगी। उनके पति कुलदीप सिंह का कहना हैं कि महिला समानता एवं सशक्तिकरण के लिए आठवां फेरा एक महत्वपूर्ण विषय है। इस विषय को सामाजिक चेतना के रूप में स्थापित करने की हिन्दुस्तान की पहल सराहनीय है। मैं खुद तो इस अभियान से जुड़ा ही हूं, और लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करने का संकल्प लिया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:They took the eighth round now your turn