DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेन में रेप के आरोपी सिपाही को भेजा जेल

मंगलवार को प्रकाश में आए इंटरसिटी एक्सप्रेस में युवती के साथ रेप प्रकरण में बुधवार की दोपहर पुलिस ने आरोपी सिपाही को कोर्ट में पेश किया, जहां से कोर्ट ने उसे जेल भेज दिया। उधर दोपहर बाद कड़ी सुरक्षा में विवेचक/जीआरपी थानाध्यक्ष ने कोर्ट में पीड़िता के बयान दर्ज कराए। युवती नाना के साथ चली गई। पुलिस के मुताबिक पीड़िता व आरोपी दोनों के ही मेडिकल में रेप की पुष्टि नहीं हो सकी। मेडिकल परीक्षण में युवती गर्भवती पाई गयी है। जीआरपी थानाध्यक्ष विजय कुमार ने बताया कि कोर्ट में महिला ने आरोपी सिपाही को बेकसूर बताया। मंगलवार को लखनऊ से चंडीगढ़ जाने वाली इंटरसिटी एक्सप्रेस के बिजनौर पहुंचने पर मेरठ के एक इलाके की रहने वाली युवती से रेप का मामला प्रकाश में आया था। करीब एक साल से तलाकशुदा होने के बाद अपने नाना के यहां रह रही उक्त युवती नौकरी की तलाश में लखनऊ गयी थी और वहां से मेरठ वापिस आने के लिए इस ट्रेन में बैठी थी। यात्रियों के हंगामे के बाद विकलांग कोच में अकेली युवती ने जीआरपी मुरादाबाद में तैनात सिपाही कमल शुक्ला पर गोली मारने की धमकी देकर दुष्कर्म का आरोप लगाया था। आरोपी कमल शुक्ला को हिरासत में ले लिया गया था व अर्द्धबेहोशी की हालत में पीड़ित युवती को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। विवेचक/थानाध्यक्ष जीआरपी नजीबाबाद विजय कुमार ने आरोपी सिपाही व पीड़िता का मेडिकल कराया। पुलिस के अनुसार दोनों के ही मेडिकल परीक्षण में रेप की पुष्टि नहीं हुई। स्लाइड बनाकर लैब टैस्ट में भी स्पर्मोटोजा नहीं पाया गया। यूरीन प्रेगनेंसी टेस्ट में युवती गर्भवती पाई गयी। बुधवार की दोपहर विवेचक ने आरोपी सिपाही कमल शुक्ला का रेप में चालान कर कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया। दोपहर बाद कड़ी सुरक्षा में जिला अस्पताल से डिस्चार्ज कराकर पीड़िता के फास्ट ट्रेक कोर्ट प्रथम सीमा वर्मा की कोर्ट में बयान दर्ज हुए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The police constable sent to jail for charged the rape in train