Tuesday, January 25, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश मुरादाबादकोहरे के बीच लगातार गिर रहा पारा

कोहरे के बीच लगातार गिर रहा पारा

हिन्दुस्तान टीम,मुरादाबादNewswrap
Thu, 06 Dec 2018 08:12 PM
कोहरे के बीच पिछले तीन चार दिन से लगातार पारा गिर रहा है। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि मौसम का मिजाज अभी तीन-चार दिन और ऐसा ही बना रहेगा। तीन चार दिनों बाद पश्चिमी विक्षोभ का सिस्टम बनने से कुछ...
1/ 3कोहरे के बीच पिछले तीन चार दिन से लगातार पारा गिर रहा है। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि मौसम का मिजाज अभी तीन-चार दिन और ऐसा ही बना रहेगा। तीन चार दिनों बाद पश्चिमी विक्षोभ का सिस्टम बनने से कुछ...
कोहरे के बीच पिछले तीन चार दिन से लगातार पारा गिर रहा है। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि मौसम का मिजाज अभी तीन-चार दिन और ऐसा ही बना रहेगा। तीन चार दिनों बाद पश्चिमी विक्षोभ का सिस्टम बनने से कुछ...
2/ 3कोहरे के बीच पिछले तीन चार दिन से लगातार पारा गिर रहा है। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि मौसम का मिजाज अभी तीन-चार दिन और ऐसा ही बना रहेगा। तीन चार दिनों बाद पश्चिमी विक्षोभ का सिस्टम बनने से कुछ...
कोहरे के बीच पिछले तीन चार दिन से लगातार पारा गिर रहा है। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि मौसम का मिजाज अभी तीन-चार दिन और ऐसा ही बना रहेगा। तीन चार दिनों बाद पश्चिमी विक्षोभ का सिस्टम बनने से कुछ...
3/ 3कोहरे के बीच पिछले तीन चार दिन से लगातार पारा गिर रहा है। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि मौसम का मिजाज अभी तीन-चार दिन और ऐसा ही बना रहेगा। तीन चार दिनों बाद पश्चिमी विक्षोभ का सिस्टम बनने से कुछ...

कोहरे के बीच पिछले तीन चार दिन से लगातार पारा गिर रहा है। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि मौसम का मिजाज अभी तीन-चार दिन और ऐसा ही बना रहेगा। तीन चार दिनों बाद पश्चिमी विक्षोभ का सिस्टम बनने से कुछ बदलाव आने की संभावना है।

गुरुवार को न्यूनतम तापमान 9.9 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। वहीं अधिकतम तापमान 24.0 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ। बुधवार की तुलना में न्यूनतम और अधिकतम तापमानों में आधे से एक डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट दर्ज की गई। पंत नगर स्थित कृषि विवि में मौसम वैज्ञानिक डा. एचएच कुशवाहा ने बताया कि पहाड़ों में हल्की बूंदा बांदी की वजह से मैदानी क्षेत्रों में नमी की मात्रा अधिक है। इस वजह से कोहरे का सिस्टम बन रहा है। उन्होंने बताया कि प्रदूषण के कण बने रहने से कोहरा छंटने के बाद भी धुंध की स्थिति बन रही है। अगले तीन-चार दिनों तक हालात ऐसे ही बने रहेंगे। उन्होंने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ का सिस्टम बनने से सोमवार को मौसम में कुछ बदलाव आने की संभावना है। गुरुवार को अधिकतम तापमान 24.0 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 9.9 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

epaper

संबंधित खबरें