DA Image
12 अगस्त, 2020|12:24|IST

अगली स्टोरी

साहब! मुझे मेरे बच्चों से मिलवाओ

default image

साहब..पत्नी बच्चों को लेकर मायके चली गई है। उसने परिवार न्यायालय में वाद दायर कर रखा है, जो विचाराधीन है। जब तक कोई फैसला नहीं होता तब तक मुझे मेरे बच्चों से मिलवाने का कोई प्रबंध करें। कुछ इन्हीं शब्दों के साथ बुलंदशहर के सिकंदराबाद निवासी डॉक्टर ने एसएसपी से गुहार लगाई है। एसएसपी कार्यालय ने बिलारी एसएचओ को आवश्यक कार्रवाई के आदेश दिए हैं।

बुलंदशहर के सिकंदराबाद के बाजार माधोदास निवासी डॉ. अभिनव गोयल प्राइवेट क्लीनिक चलाते हैं। गुरुवार को डॉ. अभिनव ने एसएसपी कार्यालय पहुंच कर प्रार्थनापत्र दिया। बताया कि उनका विवाद 2007 में बिलारी निवासी महिला से हुआ था, जो बीएएमएस डॉक्टर है। दोनों के 12 और 10 साल के दो बेटे भी हैं। अभिनव ने बताया कि पत्नी मुरादाबाद में प्रैक्टिस करने की बात कहकर सिकंदराबाद छोड़ने के लिए कह रही थी। अभिनव ने बताया कि उसके साथ वृद्ध माता-पिता रहते हैं, जिन्हें छोड़ नहीं सकता था। उसने माता-पिता को भी साथ में मुरादाबाद रखने की बात पत्नी कही। आरोप है कि पत्नी इसके लिए तैयार नहीं हुई और 15 जनवरी 2015 को मायके में आकर रहने लगी। इसके बाद अभिनव और उसके माता-पिता के खिलाफ परिवार न्यायालय में दहेज प्रताड़ना व मारपीट का वाद दायर कर दिया। डॉ. अभिनव ने कहा कि पत्नी उसे बच्चों से भी नहीं मिलने दे रही है।