DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैंक हड़ताल से सात अरब का लेनदेन फंसा

सरकारी बैंकों में बुधवार को दिन भर ताले लटके रहे। कर्मचारियों के हड़ताल पर चले जाने से मुरादाबाद में सात सौ करोड़ से ज्यादा का लेनदेन फंस गया। बैंक कर्मचारियों ने इलाहाबाद बैंक की सिविल लाइन शाखा में प्रदर्शन करके हड़ताल के समर्थन में अपनी ताकत दिखाई।

कर्मचारियों के हड़ताल पर चले जाने से चेकों की क्लीयरिंग नहीं हो सकी। निजी बैंक रोज की तरह खुले, लेकिन क्लीयरिंग ठप होने का असर सभी बैंकों और ग्राहकों के साथ ही कारोबार पर भी पड़ा। अमूमन, मुरादाबाद में रोजाना बैंकों में साढ़े चार अरब रुपए के चेकों की क्लीयरिंग और साढ़े तीन करोड़ से ज्यादा की कैश डीलिंग होती है। सरकारी बैंकों के बंद होने से क्लीयरिंग पूरी तरह ठप रही। बड़ी संख्या में बैंक कर्मचारी सुबह साढ़े नौ बजे सिविल लाइन स्थित इलाहाबाद बैंक शाखा परिसर पर इकट्ठा हुए और प्रदर्शन करके अपनी ताकत का एहसास कराए। प्रदर्शन को देखते हुए यहां पुलिस फोर्स भी मौजूद थी।

सम्मानजनक वेतन को लड़ेंगे आरपार की लड़ाई

बुधवार से सरकारी बैंकों के कर्मचारियों की दो दिवसीय हड़ताल यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) के आह्वान पर शुरू हुई। यूएफबीयू के बैनर तले सिविल लाइन स्थित इलाहाबाद बैंक परिसर में कर्मचारी वेतन समझौते में सिर्फ दो फीसदी वेतन वृद्धि के प्रस्ताव को लेकर सरकार पर भड़के। संयोजक संजय रस्तोगी ने कहा कि भारतीय बैंक संघ की ओर से बैंकों की वित्तीय स्थिति पर सवाल खड़े करना सच्चाई से परे है। बैंकों को एक लाख 35 हजार करोड़ का ऑपरेटिंग प्रॉफिट हुआ है, लेकिन खराब ऋणों की वसूली नहीं करके इस प्रॉफिट में से प्राविजिनिंग की जा रही है। अध्यक्ष जेपी सरन ने बैंकों का कारोबार लगातार बढ़ने, नई शाखाएं खुलने का हवाला देकर स्टाफ की भर्ती नहीं किए जाने का आरोप लगाया। प्रदर्शनकारियों में जिला सचिव नवनीत कुमार, एनएन टंडन, एसपी सिंह, जगदीश सिंह, जेपी सरन, संजय रस्तोगी, प्रताप सिंह, नवनीत राजवंशी, रवि सक्सेना, मनोज कुमार शर्मा, योगेश सरन, अनूप शर्मा, विजय सिंह, आशू चौधरी, अनिमेष शर्मा, पीतांबर लाल, केएस चौहान, आसिफ हुसैन, महमूद हुसैन, कमलेश शर्मा, विपिन जेटली, वेदप्रकाश, सोनल खन्ना, प्रियंका, आयुषी, अंजू आर्या, सविता व कुमकुम आदि शामिल रहे।

आज भी रहेगी बैंकों में हड़ताल

गुरुवार को भी सभी सरकारी बैंकों में हड़ताल रहेगी। जिसके चलते लेनदेन दूसरे दिन भी ठप रहेगा। शुक्रवार को ही बैंकिंग का कामकाज पटरी पर आ सकेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Seven billion transactions trapped by banks strike