DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › मुरादाबाद › चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी नहीं होने से प्रभावित हो रहा विद्यालय का काम
मुरादाबाद

चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी नहीं होने से प्रभावित हो रहा विद्यालय का काम

हिन्दुस्तान टीम,मुरादाबादPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 08:32 PM
चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी नहीं होने से प्रभावित हो रहा विद्यालय का काम

प्रधानाचार्य परिषद की बैठक सोमवार को केजीके इंटर कालेज में आयोजित की गई। इसमें विभिन्न विद्यालयों से आए लगभग 28 प्रधानाचार्यों ने प्रतिभाग किया।

अंबिका प्रसाद इंटर कालेज के प्रधानाचार्य डा. मनोज कुमार ने कहा कि प्रेरणा एप को माध्यमिक विद्यालयों में लागू न किया जाए, क्यूंकि माध्यमिक विद्यालयों में केवल कक्षा एक से आठवीं तक के यूनिफॉर्म का ही पैसा आता है, इसमें जूते, मोजे व स्वेटर का पैसा नहीं आता। मेजर राजीव ढल महाराजा अग्रसेन इंटर कालेज के प्रधानाचार्य व मेजर सुदेश कुमार भटनागर प्रधानाचार्य डीएसएम इंटर कालेज कांठ ने कहा कि विद्यालयों में कक्षा एक से आठवीं तक कोई शुल्क नहीं लिया जाता जिससे परीक्षाओं का खर्चा, इंफ्रास्ट्रक्चर आदि के खर्चे में कठिनाई आती है। राजीव शर्मा ने कहा कि विद्यालय में जो कम्प्यूटर क्लर्क कम्प्यूटर का कार्य नहीं कर सकते उनका प्रशिक्षण होना चाहिए। चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी नहीं होने से विद्यालयों का कार्य सुचारू रूप से नहीं हो पा रहा है। इस अवसर पर डा. कुलदीप बरनवाल, प्रधानाचार्य परिषद के अध्यक्ष राकेश कुमार टंडन, प्रधानाचार्य परिषद की सचिव मधु गुप्ता, एसके नेथन, डा. मधुबाला त्यागी, सफीउद्दीन, डा. नीति भारद्वाज, लीनम पवार ने भी अपने विचार व्यक्त किए।

संबंधित खबरें