ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश मुरादाबादअवैध टेंपो संचालन से हादसों का खतरा बढ़ा

अवैध टेंपो संचालन से हादसों का खतरा बढ़ा

ठाकुरद्वारा। उत्तराखंड के लगभग 120 टेंपो धड़ल्ले से यूपी में घुसकर यूपी सरकार को राजस्व का चूना लगा रहे हैं। साथ ही तीन गुना रफ्तार से टेंपो दौड़ाकर...

अवैध टेंपो संचालन से हादसों का खतरा बढ़ा
हिन्दुस्तान टीम,मुरादाबादMon, 19 Feb 2024 07:15 PM
ऐप पर पढ़ें

ठाकुरद्वारा। उत्तराखंड के लगभग 120 टेंपो धड़ल्ले से यूपी में घुसकर यूपी सरकार को राजस्व का चूना लगा रहे हैं। साथ ही तीन गुना रफ्तार से टेंपो दौड़ाकर जनजीवन के लिए खतरा बना रहे हैं। पुलिस-प्रशासन के तमाम प्रयास के बाद भी इन पर अंकुश नहीं लगाया जा सका है। क्षेत्र के लोगों ने अवैध टेंपो संचालन के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।
वहीं, एसडीएम अजय कुमार मिश्रा का कहना है कि आरटीओ को पत्र लिखकर आवश्यक कार्रवाई कराई जाएगी।

उत्तराखंड के अवैध टेंपो संचालन से लगातार दुर्घटनाएं हो रही हैं। यात्रियों का जीवन संकट में पड़ा हुआ है इन पर प्रभावी अंकुश लगाया जाना चाहिए।

मुकेश चौधरी, ठाकुरद्वारा

अवैध टेंपो का संचालन न रुकने से बस मालिकों के समक्ष गंभीर संकट पैदा हो गया है। बिना टैक्स अदा किए टेंपो चालक यूपी सरकार के राजस्व को भी नुकसान पहुंचा रहे हैं।

महिपाल राजपूत,ठाकुरद्वारा

ओवरलोडेड टेंपो से दुर्घटना की आशंका बहुत ज्यादा बढ़ जाती है। ग्रामीण क्षेत्र से छात्र-छात्राएं भूसे की तरह टेंपो से तहसील मुख्यालय पहुंचते हैं। ऐसे में हादसे का खतरा रहता है।

अनिरुद्ध चौहान, डायरेक्टर अपर्णा औद्योगिक प्रशिक्षण केंद्र, ठाकुरद्वारा

टेंपो चालकों की मनमानी से व्यापारियों को बहुत परेशानी उठानी पड़ती है। निजी बस सेवा काफी अच्छी है लेकिन टेंपो चालक व्यापारियों को भ्रमित कर देते हैं।

हाजी याकूब कुरैशी, ठाकुरद्वारा

बहुत अफसोस की बात है कि पुलिस प्रशासन और परिवहन विभाग की तमाम कोशिश बेकार साबित हो रही हैं और दुर्घटनाओं को बढ़ावा देते टेंपो इधर-उधर दौड़ रहे हैं।

अंतरराष्ट्रीय हास्य कवि शरीफ भारती

आरटीओ को पत्र लिखकर टेंपो संचालन के बारे में आवश्यक कार्रवाई के लिए कहा जाएगा और जो भी आवश्यक कार्रवाई होगी कराई जाएगी।

अजय कुमार मिश्रा, एसडीएम, ठाकुरद्वारा

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें