DA Image
3 दिसंबर, 2020|6:56|IST

अगली स्टोरी

निर्यातकों पर ऑर्डर कैंसिल करने का दबाव, हड़कंप

default image

दुनिया भर में कोरोना वायरस के कहर से शहर के हैंडीक्राफ्ट निर्यातक इसके असर को लेकर चिंतित हैं। कई विदेशी ग्राहकों से जुड़े बाइंग एजेंटों ने ऑर्डर कैंसिल करने का दबाव डालकर उनकी परेशानी बढ़ा दी है। निर्यातकों ने इस मामले में ईपीसीएच से मदद की गुहार भी लगाई है।

ईपीसीएच की प्रशासनिक समिति के सदस्य नीरज खन्ना ने बताया कि इन परिस्थितियों में 18 फरवरी के बाद हुए ऑर्डरों को निरस्त कर देना तार्किक बताते हुए निर्यातकों का कहना है कि इतना समय रॉ मैटीरियल की व्यवस्था करने और उत्पादों की मैन्यूफैक्चरिंग शुरू करने में लग जाता है। जो उत्पाद तैयार हो गए हैं उन्हें निरस्त कराने के विषय पर खरीदार और बाइंग एजेंट को हमारे साथ स्वस्थ संबंधों पर अवश्य विचार करना होगा। जो उत्पाद कार्टनों में पैक होकर शिपमेंट के लिए तैयार हैं उनके ऑर्डर निरस्त नहीं किए जा सकते। ऐसे ऑर्डरों का निरस्तीकरण पचास फीसदी पेमेंट की स्थिति में ही किया जा सकेगा। ईपीसीएच के सीओए सदस्य कमल सोनी, मुरादाबाद हैंडीक्राफ्ट एक्सपोर्टर एसोसिएशन के महासचिव अवधेश अग्रवाल, नजमुल इस्लाम, यस के चेयरमैन विशाल अग्रवाल, महासचिव रोहित ढल, नीरज खन्ना ने सामूहिक रूप से इस समस्या को बाइंग एजेंट एसोसिएशन और सरकार के समक्ष उठाने का फैसला किया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Pressure on exporters to cancel orders stir