DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीएम पर अभद्र टिप्पणी के मामले में पुलिस ने दी ताबड़तोड़ दबिश

बिलारी विधायक मोहम्मद फहीम के चाचा हाजी उस्मान की फेसबुक पर किसी ने बिजनौर कांड को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ पर अभद्र टिप्पणी पोस्ट कर दी थी। इस पर भाजपाइयों ने नाराजगी जताते हुए कार्रवाई की मांग उठाई थी। मामले में पुलिस गुरुवार रात एक छात्र को गिरफ्तार कर लिया था। जबकि पुलिस अब दो अन्य आरोपियों को क्लीन चिट देने की तैयारी है।बिलारी विधायक मोहम्मद फहीम के चाचा हाजी उस्मान की फेसबुक पर सीएम के खिलाफ अभद्र टिप्पणी की पोस्ट से माहौल गरमा गया है। गुरुवार को भाजपा नेताओं ने कोतवाली पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई थी। उन्होंने कोतवाली में तहरीर देकर आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग उठाई थी। आरोप है कि हाजी उस्मान की फेसबुक वाल पर सैफनी रामपुर के तौसीफ पाशा, राजू पाशा, हाजी वसीम पाशा ने सीएम के खिलाफ अभद्र टिप्पणी पोस्ट की थी। मुकदमा दर्ज होने के बाद पुलिस ने सैफनी के बगऊआ निवासी इंटर के छात्र तौसीफ पाशा को गिरफ्तार कर लिया। जबकि दूसरे आरोपियों की तलाश के लोकेशन जुटाई गई। राजू की लोकेशन रामपुर की मिली, जबकि वसीम पाशा की लोकेशन सऊदी अरब में मिली। पूरे मामले को लेकर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार तो कर लिया, मगर जेल नहीं भेजा। पुलिस मामले में आवश्यक साक्ष्य जुटा रही है। कोतवाली प्रभारी रामवीर सिंह का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। एक आरोपी को हिरासत में ले लिया गया है। दूसरे आरोपी ने कोई टिप्पणी नहीं की थी। तीसरा आरोपी की लोकेशन सऊदी अरब में मिली है। लिहाजा उसकी गिरफ्तारी संभव नहीं है। इस मामले में उच्चाधिकारियों से बात कर कार्रवाई की जाएगी। राजू को क्लीनचिट देने की तैयारीमामले में अन्य आरोपी राजू पाशा को पुलिस क्लीन चिट देने की तैयारी में है। कारण राजू पाशा की ओर से एफबी पर एक पोस्ट की गई थी। इसमें उसने सीएम के खिलाफ कोई टिप्पणी नहीं की थी बल्कि रेप के आरोपी सिपाही के खिलाफ टिप्पणी लिखी थी। लिहाजा उसे क्लीन चिट देने की तैयारी है, जबकि वसीम पाशा की लोकेशन सऊदी अरब में मिली है। गिरफ्तारी संभव न होने के कारण क्लीन चिट मिल सकती है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक पूरे मामले में अभी ओर भी सुबूत जुटाए जा रहे हैं।विधायक का रिश्तेदार है गिरफ्तार आरोपीबिलारी। गिरफ्तार आरोपी तौसीफ पाशा विधायक मो. फहीम का रिश्तेदार है। उसने पूछताछ में बताया कि उसकी आईडी को किसी ने हैक कर फर्जी आईडी बनाकर पोस्ट डाली है। उसने कोई कमेंट नहीं किया। उसने हाजी उस्मान को दूर का रिश्तेदार बताया। वहीं छात्र ने बताया कि उसकी फर्जी आईडी का इस्तेमाल किया गया। मुझे पहले ही पुलिस से शिकायत करनी थी, मगर पुलिस आरोपी की किसी बात का एतबार नहीं कर रही। पूरे मामले को लेकर रिपोर्ट दर्ज करने की तैयार की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Police raid in the case of abusive remarks on CM