DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मानव सेवा से बढ़कर कोई दूसरी सेवा नहीं मानव सेवा से बढ़कर कोई सेवा नही, प्रचारक डाॅ नरेश कुमार

रविवार को नगर में हाईवे पर स्थित निरंकारी सत्संग भवन में सप्ताहिक सत्संग के दौरान प्रचारक नरेश कुमार ने कहा कि जब प्रभु परमात्मा कृपा करते है , तब हमें संत महात्माओ का संग देते है। इनका संग हमें पूर्ण सतगुरू से मिला देता है। सतगुरू हमें जीने का सही राह दिखाता है। रामचरित्र मानस में तुलसीदास ने लिखा है कि बड़े भाग मानुष तनपावा, सुर दुर्लभ सद् ग्रंथही गंवा , अर्थात प्रभु परमात्मा हमारे साथ रहते है। इससे अधिक हमारे निकट कोई वस्तु नही है। उन्होने कहा कि मनुष्य सतगुरू की बात को माने तो वह सबसे बड़ा धर्म है। प्रभु की प्राप्ति सतगुरू की कृपा से होती है। प्रभु परमात्मा शिश झुकाकर ही मिलते है। प्रभु का ज्ञान मानव अपने आचारण में ढाल ले तो जीवन सुंदर और सफल हो जाएगा। प्रभु दर्शन से हदय का कमल खिल जाता है। जिस उददेश्य से मानव तन मिला है। उसको पूर्ण करना हमारा कर्तव्य है। प्रचारक ने कहा कि सत्संग सेवा सुमरन करते रहे और 15 अगस्त निरंकारी मिशन मुक्ती पर्व के रूप में मनाया जाएगा। सत्संग में मुखी ब्रहम प्रकाश गुप्ता, प्रेमप्रकाश सिंह, राकेश कश्यप, सुनीता , माला , नीलू, रितू ,अंकिता आदि उपस्थित रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:No service surpasses Human Services