DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आपसी सहमति से मंदिर और मस्जिद के उतारे लाउडस्पीकर

आपसी सहमति से मंदिर और मस्जिद के उतारे लाउडस्पीकर

थानाक्षेत्र के ग्राम ठिरियादान गांव ने भाईचारे की मिसाल पेश की है। गांव के मंदिर व मस्जिद पर लगे लाउडस्पीकरों के विवाद को ग्रामीणों ने आपसी रजामंदी से निपटा लिया। बैठक में तय हुआ कि गांव की मस्जिद व मंदिर में अब लाउडस्पीकर नहीं लगेगा। ग्राम ठिरियादान में पिछले कुछ समय से मस्जिद व मंदिर पर लगे लाउडस्पीकरों को लेकर विवाद गहरा गया था। इसको लेकर तनानती चली आ रही थी। इस पर भगतपुर पुलिस ने गांव में दोनों समुदाय के लोगों से बातचीत कर मामले का हल निकालने की बात कही थी। शुक्रवार को दोनों समुदाय के लोगों ने बैठककर निर्णय लिया कि गांव की मस्जिद व मंदिरों पर लाउडस्पीकर नहीं लगाया जाएगा । फैसले के बाद दोनों समुदाय के लोगों ने अपने धर्मस्थलों से लाउडस्पीकर उतार लिए। वहीं बैठक में तय हुआ कि दोनों समयुदा के आयोजन में लाउडस्पीकर नहीं लगाए जाएंगे । इस संबंध में थानाध्यक्ष केशव कुमार तिवारी ने बताया कि दोनों समुदाय के लोगों ने आपसी रजामंदी से लाउडस्पीकर के विवाद को निपटा लिया है। ग्राम ठिरियादान में कुछ माह पूर्व भी दोनों समुदाय के लोगों में विवाद हो गया था । इसमें एक समुदाय की तरफ से दूसरे समुदाय के लोगों के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराया गया था। फिलहाल गांव में शांति है। लाउडस्पीकर का विवाद निपटने से गांव व आसपास के गावों के लोगों में खुशी का माहौल है। बैठक के दौरान मुस्लिम समुदाय के हाजी जाकिर, अब्दुल रहमान, बन्ने, अमीन, नूरहसन व हिंदू समुदाय के हेमंत शर्मा, दिनेश कुमार, रामबहादुर, सूरज सिंह आदि मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Loudspeakers of temples and mosques by mutual consent