life imprisonment for Two in killing Kundarki s youth - कुंदरकी के युवक की हत्या में दो को उम्रकैद DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुंदरकी के युवक की हत्या में दो को उम्रकैद

default image

कुंदरकी में नौ साल पहले चुनावी रंजिश में हुई युवक की हत्या में कोर्ट ने दो युवकों केा उम्रकैद की सजा सुनाई है। शनिवार को अपर जिला जज राम अचल यादव ने यह फैसला सुनाया। कोर्ट ने आरोपियों पर पांच-पांच हजार रुपये जुर्माना भी ठोका है।

घटना कुंदरकी के गांव बाकीपुर की है। पांच नवंबर, 2010 को ग्राम प्रधान चुनाव की रजिंश में दो गुट आपस में भिड़ गए थे। झगड़े के बाद गांव के तालिब हुसैन के पुत्र उबैस की गोली मारकर हत्या कर दी गई। तालिब हुसैन ने गांव के दो लोग जर्रार हुसैन और मुश्फीक के खिलाफ हत्या की तहरीर दी। तहरीर के मुताबिक गांव में चुनाव को लेकर दो गुटों में आपसी विवाद था। इसके चलते उबैस और शाहिद हुसैन में जमकर मारपीट हुई। इस झगड़े में गांव के याकूब का भाई मकसूद घायल हो गया। गंभीर रूप से घायल मकसूद की हालत देख उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। घटना से गांव में तनातनी का माहौल रहा। बताते है कि इस झगड़े में घायल मकसूद के भाई याकूब ने अस्पताल में खाना लाने के लिए उबैस से कहा। उबैस को साथ लेकर जर्रार और मुश्फीक गांव से चले मगर रास्ते में मुश्फीक ने उबैस की गर्दन पर तमंचे से गोली मार दी जिससे उसकी मौत हो गई। घटना को अब्दुल खालिक और मोहम्मद इदरीस ने देखा।

हत्याकांड की सुनवाई एडीजे (प्रथम) की अदालत में हुई। मामले में एडीजीसी ब्रजराज ने बताया कि केस में चश्मदीद समेत कई लोगों ने गवाहियां दी। जिसमें आरोपियों के खिलाफ पुख्ता सबूत पाए गए। शनिवार को कोर्ट ने दोनों को उम्रकैद और पांच पांच हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: life imprisonment for Two in killing Kundarki s youth