DA Image
26 जनवरी, 2021|6:04|IST

अगली स्टोरी

मुरादाबाद में हेल्थ टीम पर पत्थर बरसाने वाले पांच लोग कोरोना पॉजिटिव मिले

attack on medical team in moradabad  file pic

मुरादाबाद में हेल्थ टीम और पुलिस पर हमला करने वाले पांच लोग समेत जिला जेल में बंद छह बंदी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। नवाबपुरा इलाके में 15 अप्रैल को सर्वे करने गई हेल्थ टीम पर पत्थर बरसाने के आरोप में 17 लोग गिरफ्तार हुए थे। इनमें से 5 के कोरोना पॉजिटिव मिलने से हड़कंप मच गया। आरोपियों के कोरोना पॉजिटिव की रिपोर्ट आने के बाद इन्हें पकड़ने में शामिल पुलिसकर्मियों सहित नागफनी थाने के स्टाफ को क्‍वारंटीन कर दिया गया।

जिला प्रशासन ने पॉजिटिव मरीजों को जिला अस्पताल स्थित वॉर्ड में भर्ती कराया है। जेल के अन्य बंदियों के साथ क्वारंटाइन किए गए अन्य को मॉडर्न पब्लिक स्कूल स्थित अस्थाई जेल शिफ्ट करने की कार्रवाई की जा रही है। 

गौरतलब है कि नागफनी थाना क्षेत्र के नवाबपुरा इलाके में स्वास्थ्य विभाग की टीम कोरोना वायरस की चपेट में आकर जान गंवाने वाले सरताज अली के करीबियों को क्वॉरंटाइन करने के लिए गई थी। इसी बीच डॉक्टरों और पुलिस पर पथराव किया गया था। पुलिस ने 7 महिलाओं समेत 17 लोगों को गिरफ्तार करके जेल दूसरे दिन भेजा था। सभी को जिला जेल में क्वॉरंटाइन किया गया था सभी की जांच भेजी गई थी।

जांच रिपोर्ट में मंगलवार सुबह नवाबपुरा के 5 पत्थरबाज महफूज अली, फहीम अहमद, सब्लू आजम, असद और दिल्ली निवासी कृष्णा कोरोना पॉजिटिव पाए गए। जेल प्रशासन ने इसकी पुष्टि की। एएसपी दीपक भूकर ने बताया कि पॉजिटिव पाए गए सभी बंदियों को जिला अस्पताल स्थित वार्ड में शिफ्ट कराया जा रहा है।

मुख्य आरोपी पर इनाम घोषित

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में डॉक्टरों और पुलिस पर पत्थर फेंकने के बवाल का मास्टर माइंड माना जा रहा कारोबारी डिल्लन अभी  पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ा है। इसे देखते हुए  पुलिस ने उसके बारे में सूचना देने वाले को इनाम देने की घोषणा की है। पुलिस का कहना है कि डिल्लन का कुनबा मोस्ट वांटेड हो गया है। सूचना देने वाले का नाम पूरी तरह से गुप्त रखा जाएगा। पुलिस अधिकारियों के सीयूजी नंबर पर सीधे जानकारी दी जा सकती है। पुलिस सूचना देने वाले को सुरक्षा भी मुहैया कराएगी।

पुलिस के अनुसार नवाबपुरा बवाल में कारोबारी डिल्लन के कुनबे ने ही लोगों को भड़काया था। इसके बाद ही लोगों ने पुलिस और डाक्टरों की टीम पर पत्थरबाजी की थी। पूरा कुनबा पत्थरबाजी करते कैमरे में कैद पाया गया है। डिल्लन और उसके लड़के भीड़ की अगुवाई भी कर रहे थे और पत्थरबाजी भी। डिल्लन की पत्नी शमीम बेगम, बेटी शबनम को पुलिस मौके से गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। बेटा शानू उर्फ सलीम, नदीम उर्फ राजू और खुद डिल्लन अन्य बवालियों के साथ फरार है। वह लगातार पुलिस को चकमा दे रहा है। गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने जाल भी बिछाना शुरू कर दिया है।

एसएसपी अमित पाठक ने मोस्ट वांटेड डिल्लन के कुनबे के अलावा फरार अन्य बवालियों की सूचना देने वाले को उचित इनाम देने की घोषणा की है। उन्होंने बताया कि सूचना देने वाले का नाम और पता पूरी तरह से गुप्त रखा जाएगा। एसएसपी ने यह भी कहा कि बवालियों को पनाह देने वाले लोग भी संक्रमित हो सकते हैं। लिहाजा वह लोग अपनी व अपने परिवार की जान बचाने की खातिर भी सूचना दे सकते हैं। उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं की जाएगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:In Moradabad six prisoners including five accused of throwing stones at the doctor were found corona positive