DA Image
25 नवंबर, 2020|9:58|IST

अगली स्टोरी

शहर में अगर कहीं आग लगी तो बुझाना होगा मुश्किल

default image

दिवाली पास आते ही दमकल विभाग की चुनौतियां बढ़ जाती है। विभाग पर आग से बचाव के फिलहाल बहुत चौकस इंतजाम नहीं है। जोड़तोड़ से मौजूद संसाधनों से आग बुझाने को काम किए जा रहे हैं। वहीं, आग बुझाने के लिए जो हाइड्रेंट प्वाइंट शहर भर में है उनमें से आधे खराब हैं। ऐसे में खुदा न खास्ता आग की कोई बड़ी घटना हो गई तो उसको संभालना मुश्किल हो जाएगा। दमकल विभाग ने खराब हाइड्रेंट को दुरुस्त करवाने को नगर निगम को सूचना भिजवा दी लेकिन अभी तक उस ओर से न तो कोई जवाब आया और न ही कोई काम हुआ।

मुरादाबाद में हैलेट रोड और कटघर में दमकल स्टेशन हैं। जहां आठ से दस गाड़ियां हमेशा आग बुझाने के लिए तैयार रहती है। स्टाफ वैसे तो कम है लेकिन जितनी टीम है उनसे काम कराया जाता है। विभाग के लिए इन सबसे जरूरी हाइड्रेंट प्वाइंट है जहां से घटना के समय पानी लिया जाता है लेकिन अपने शहर में हाइड्रेंटों की स्थिति बेहद खराब है। करीब 44 हाइड्रेंट में से 20 खराब पड़े हैं। जिसको ठीक कराने के लिए दमकल अफसरों ने नगर निगम को प्राथमिकता पर इन खराब हाइड्रेंटों को दुरूस्त कराने को कहा लेकिन दस दिन गुजरने के बाद भी निगम ने इन हाइड्रेंट के बारे में कुछ भी जानने की कोशिश नहीं की। ऐसे में अगर शहर में आग की कोई बड़ी घटना हो जाए तो शहर भर में बने हाइड्रेंटों से भरपूर पानी नहीं मिल पाएगा।

शहर में 44 फायर हाइड्रेंट हैं। इनमें से निरीक्षण में 20 हाइड्रेंट खराब मिले। हाइड्रेंट प्वाइंट को सही करवाने के लिए जल निगम अफसरों को दस दिन पहले पत्र भेजा लेकिन अभी तक एक भी हाइड्रेंट को ठीक नहीं करवाया गया। शहर के आधे फायर हाइड्रेंट खराब होने से काफी दिक्कत हो रही है। दिवाली भी पास है और आग का खतरा बना रहता है। ऐसे में हाइड्रेंट जल्द ठीक न हुई तो मुश्किल हो जाएगी।

-मुकेश कुमार, सीएफओ

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:If there is a fire in the city it will be difficult to put out