DA Image
25 सितम्बर, 2020|12:08|IST

अगली स्टोरी

भर्ती-डिस्चार्ज में अस्पतालों से आगे निकला होम आइसोलेशन

default image

कोरोना संक्रमण की पुष्टि होने के बाद मरीजों इलाज शुरू करने और फिर उनके स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किए जाने दोनों ही मामलों में होम आइसोलेशन ने बाजी मार ली है। कोरोना संक्रमितों में होम आइसोलेट होने वालों की संख्या अब अस्पतालों में भर्ती होने वालों से कहीं ज्यादा दर्ज हुई है। मुरादाबाद में होम आइसोलेट हुए मरीजों का आंकड़ा सत्रह सौ के पार जा पहुंचा है। जबकि, कोविड एल वन अस्पताल विवेकानंद नर्सिंग कॉलेज में अब तक 12 सौ मरीज भर्ती हो चुके हैं। जबकि, टीएमयू कोविड एल टू अस्पताल में 1150 से ज्यादा मरीज अब तक भर्ती हुए हैं। जिले में कोविड संक्रमण की शुरुआत से ही एमसीएच विंग लेवल वन और टीएमयू एल टू अस्पताल में मरीज भर्ती किए जा रहे हैं। इसी तरह स्वस्थ होकर मरीजों के हो रहे डिस्चार्ज में भी अब होम आइसोलेशन सबसे आगे दर्ज हो गया है। होम आइसोलेट होने के बाद डिस्चार्ज घोषित हुए मरीजों का आंकड़ा एक हजार तक पहुंच गया है। इस मामले में दूसरे नंबर पर विवेकानंद एल वन अस्पताल और तीसरे नंबर पर टीएमयू कोविड एल टू अस्पताल दर्ज हुआ है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Home isolation overtakes hospitals in recruitment-discharge