DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रकाशोत्सव पर सबद कीर्तन और लंगर की धूम

प्रकाशोत्सव पर सबद कीर्तन और लंगर की धूम

मुरादाबाद। गुरु नानक देव का 550 वां प्रकाशोत्सव हर्षोल्लास से मनाया गया। गुरुद्वारा श्री सिंह सभा में दरबार सजाया गया। सबद कीर्तन और लंगर का आयोजन किया गया। इसमें सुबह से ही श्रद्धालुओं की भीड़ रही। उन्होंने मत्था टेका और मन्नतें मांगी।

गुरुद्वारा में सुबह सात बजे से ही कार्यक्रम आरंभ हो गया। हेड ग्रंथी ज्ञानी हरेंद्र पाल सिंह ने गुरु नानक देव के जीवन पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा गुरु नानक देव ने दो शिष्य भाई बाला और मरदाना के साथ पूरे विश्व का भ्रमण किया। असंख्य पापियों को का मार्गदर्शन कर उनका कल्याण किया। उन्होंने बिनाभेछ भाव संपूर्ण जीवन मानव जाति के कल्याण के लिए समर्पित रहे। उनके दोनों शिष्य हिंदू और मुस्लिम के साथ दलितों से भी संबंध रखने वाले थे। इनके बाद रागी जत्था भाई हरप्रीत सिंह हुजूरी रागी गोविंद वाला, रागी जत्था भाई सुरजीत सिंह हुजूरी रागी रामपुर और रागी जत्था भाई ओंकार सिंह हुजूरी रागी मुरादाबाद ने गुरुवाणी सुनाकर संगत को निहाल किया। उन्होंने भजनों के माध्यम से गुरु नानक देव की महिमा का गुणगान किया।

गुरुद्वारा प्रबंध समिति की ओर से अध्यक्ष डा. अमोलक सिंह ने अतिथि एडीएम सिटी राजेंद्र सिंह सैंगर और बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की संयोजिका प्रिया अग्रवाल को कृपाल और सरोपा देकर सम्मानित किया। इस दौरान लंगर भी चलता रहा। जहां रक्षपाल सिंह एवं बलवीर सिंह सहित अन्य सेवकों से श्रद्धाभाव से लोगों को लंगर खिलाया वहीं कुछ लोगों ने अपनी ओर से गजक, आइसक्रीम आदि बांट कर खुशी का इजहार किया। चैयरमैन हरभजन सिंह चड्ढा सहित संतोख सिंह, भगवंत सिंह, गुरजीत सिंह चड्ढा, हरबंश सिंह चड्ढा, मंजीत सिंह, जगमीत सिंह, डा. विनोद कुमार, अमर जीत सिंह आदि का सहयोग रहा। संचालन राजेंद्र सिंह ने किया। महामंत्री रणजीत से आभार व्यक्त किया।

भीड़ के कारण यातायात का मार्ग बदला

मुरादाबाद। गुरुद्वारा श्री सिंह सभा में तड़के से ही भीड़ पहुंचने लगी। जिसके कारण ताड़ीखाना और कपूर कंपनी से गुरुद्वारा की ओर जाने वाले रास्ते पर वाहनों का संचालन बंद कर दिया गया। यातायात को पारकर कालेज की ओर से निकाला गया। वाहन आने वाले श्रद्धालुओं के वाहन भी बेरिकेडिंग से पहले ही रोके गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Guru s Prakashotsav sabad keertan and langar